एक करोड़ पांच लाख छियासी हजार आठ सौं तैयासी रूपए की अवार्ड राशि पारित

630 प्रकरणो में से 103 प्रकरणो हुआ निस्तारण

दूर रह रहे दंपत्तियों को मिलाने पर झलके आंसू

छबड़ा। छबड़ा के अपर जिला एवं सेशन न्यायालय में पंचम राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन हुआ जिसमें कुल 630 प्रकरणो आए जिनमें से 103 प्रकरणो का आपसी सहमति से राजीनामा करवाया गया तथा मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण एवं बैंक रिकवरी प्रकरणो में लगभग एक करोड़ पांच लाख छियासी हजार आठ सौं तैयासी रूपए की अवार्ड राशि भी पारित की गई।

तालुका विधिक सेवा समिति के सचिव हनुमान सहाय मीणा ने बताया कि शनिवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बारां के तत्वाधान में अपर जिला एवं सेशन न्यायालय में पंचम राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। यह अदालत अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश श्वेता गुप्ता एवं वरिष्ठ सिविल न्यायाधीश एवं अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट राजेश कुमार मीणा की अध्यक्षता मे आयोजित हुई। इस लोक अदालत मे राजीनामे के माध्यम से कई वर्षो से अलग रह रहे दंपत्ति को मिलाया गया। इसके तहत लगभग पांच वर्ष से अलग रह रहे मंजूबाई एवं सुनील को आपसी सहमति से मिलाने पर दंपत्ति की आंखो मे से आंसू झलक आए। इस लोक अदालत में अभिभाषक परिषद अध्यक्ष वैंकेट कुमार वैष्णव, वरिष्ठ अधिवक्ता भगवान कृष्ण बलरिया, कृष्ण गोपाल भार्गव, अधिवक्ता हेमंत पारिक, श्यामलाल पारिक, सुरेंद्र कुमार भार्गव, सईद अहमद फारूकी, देवेंद्र मेहता, दयाचंद कुशवाह, दीपक वर्मा, अपर लोक अभियोजक अमृतलाल लोधा सहित बैंक के अधिकारी मौजूद रहे। साथ ही इस दौरान न्यायिक कर्मचारियों में भूपेंद्र योगी, किशनसिंह मीणा, शिवकुमार शर्मा, दिनेश कुमार गुप्ता, विकास गौड़, उज्जवल, विपिन गौतम, कुलदीप सिंह, धनराज गुप्ता, रोहिताश, पीएलवी हेमराज कुमावत, समाजसेविका कनिज फातमा आदि मौजूद रहे। इस राष्ट्रीय लोक अदालत में कुल 630 प्रकरणो आए जिनमें से 103 प्रकरणो का आपसी सहमति से राजीनामा करवाया गया तथा मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण एवं बैंक रिकवरी प्रकरणो में लगभग एक करोड़ पांच लाख छियासी हजार आठ सौं तैयासी रूपए की अवार्ड राशि भी पारित की गई। इस दौरान पक्षकार एवं अधिवक्ताओं ने बढ़-चढ़कर भाग लिया!