कोटा – स्वामी विवेकानंद जी की 156 वी जयंती के उपलक्ष में सोसाइटी हैज ईव इंटरनेशनल चैरिटेबल ट्रस्ट एवं वीमेन वेलफेयर आर्गेनाइजेशन ऑफ वर्ल्ड के द्वारा गुमानपुरा स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में उन बालिकाओं को शैक्षणिक स्टेशनरी और नए कपड़े दी गई | ट्रस्टी निधि प्रजापति ने बताया की जिन बच्चों को शैक्षणिक सामग्री दी गई है वो पढाई में तो बुद्धिमान है परन्तु या तो उनकी परिवार आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है या उनके माता-पिता इस दुनिया में नहीं है | उन्होंने कहा की यदि हमें विश्व गुरु बनना है तो हमें स्वामी विवेकानंद जी के जीवन को अपना आदर्श बनाते हुए अपने शैक्षणिक और अध्यात्मिक मूल्यों का उन्नयन करना होगा | कार्यक्रम संयोजक सोनी नेहलानी ने इस अवसर पर विद्यार्थियों को स्वामी विवेकानंद जी के जीवन से भावी अध्ययन और शिक्षा लेने के लिए प्रेरित किया | उन्होंने कहा की अपनी शिक्षा और ज्ञान के बल पर ही विवेकानंद जी ने विश्व में अपना लोहा मनवाया था | इस अवसर पर हिंदी व्याख्याता प्रेमलता जी ने धन्यवाद देते हुए कहा की बालकों और बच्चियों को दी ये सहायता उन्हें और मन लगाकर पढने को प्रेरित करेगी तथा इससे विद्यालय के वार्षिक परिणाम में भी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा |