विधायक सिंघवी के नेतृत्व में सैंकड़ो किसानो ने सौंपा ज्ञापन

जमनालाल यादव पत्रकार

छबड़ा। छबड़ा सुपर थर्मल पॉवर प्लांट प्रशासन प्लांट की बाउंड्रीवाल करवाने की आड़ में किसानो को बेघर करने पर उतारू होने से क्षुब्ध सैंकड़ो किसानो के साथ विधायक प्रतापसिंह सिंघवी ने मुख्यमंत्री के नाम का ज्ञापन तहसीलदार को सौंपकर प्लांट प्रशासन द्वारा की जा रही मनमानी पर अंकुश लगाने की मांग की हैं।

उपलब्ध जानकारी के अनुसार तहसील क्षेत्र के गांव अरनियापार निवासी किसानो की खाते की कृषि भूमि को फर्जी दस्तावेज तैयार कर प्रभावशाली सत्तारूढ़ पार्टी के नेताओ द्वारा जमीन हड़प कर प्लांट निर्माण में ली गई उक्त जमीन का मुआवजा इन नेताओ द्वारा उठा लेने के मामले को छबड़ा के विधायक प्रतापसिंह सिंघवी ने गंभीरता से लेते हुए दर्जनो भाजपा नेताओ के साथ वे रविवार को तहसीलदार राजेंद्र मीना से मिले और इस मामले की जांच करवाकर किसान को न्याय दिलाने की गुहार की। तथा सुपर थर्मल पॉवर प्लांट प्रशासन द्वारा प्लांट की बाउंड्रीवाल करवाने के बहाने प्लांट की सीमा पर बने कच्चे-पक्के मकानो को ध्वस्त कर किसानो को उनके घर से बेघर करने के लिए उतारू हो रहा हैं। इस मामले से क्षुब्ध होकर विधायक सिंघवी सैंकड़ो पीड़ित किसानो के साथ तहसीलदार से मिले और उन्हे मुख्यमंत्री के नाम का ज्ञापन देकर प्लांट प्रशासन द्वारा समीप के किसानो को जबरन परेशान कर बरत रहे मनमानी पर अंकुश लगाने की मांग की हैं। इस मौके पर उनके साथ भाजपा जिला उपाध्यक्ष हिम्मतसिंह सिंघवी, जयनारायण नागर, नगर अध्यक्ष शंकरलाल सुमन, पूर्व नगर अध्यक्ष कैलाशचंद जैन, अजय श्रीवास्तव, पूर्व पालिकाध्यक्ष बिठ्ठलदास गुप्ता व भंवरलाल वर्मा, पालिका उपाध्यक्ष कपिल यादव, देहात मंडल अध्यक्ष उदयसिंह, मोहनलाल नागर, युवा मोर्चा नगर अध्यक्ष गोविंद तिवारी, पार्षद नादिर खान, आबिद अली, सुरेश कुशवाह, डालचंद कुशवाह, भाजपा नेता अशोक गौड़, हरिओम गौड़, रितेश शर्मा, राधेश्याम सुमन, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष रोहित अरोड़ा एवं मोरसिंह गुर्जर सहित अन्य भाजपा नेता एवं सैंकड़ो किसान मौजूद रहें।