जमनालाल यादव पत्रकार

छबड़ा। छबड़ा-छीपाबड़ौद विधायक प्रतापसिंह सिंघवी ने कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस ने कर्जमाफी के नाम पर किसानो के साथ छलावा किया हैं। सरकार को बिना किसी भेदभाव के सभी किसानों का कर्जा माफ करना चाहिए। कांग्रेस पार्टी किसानों को महज वोट बैंक मानकर चलती हैं जबकि भाजपा उन्हे अन्नदाता के रूप मे मानती हैं।

विधायक प्रतापसिंह सिंघवी ने प्रदेश मे आसीन कांग्रेस सरकार पर कर्ज माफी के नाम पर किसानो के साथ छलावा करने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस ने सत्ता मे आने के दस दिन बाद ही प्रदेश के सभी किसानो का कर्ज माफ करने का वायदा किया था लेकिन प्रदेश मे आसीन कांग्रेस सरकार द्वारा सत्ता की बागड़ोर संभाले हुए दो सप्ताह गुजर गए जिसके बावजूद भी आज तक एक भी किसान का किसी भी प्रकार का कर्ज माफ नही हुआ हैं। जनता को गुमराह कर झूठे वायदे कर सत्ता पर आसीन होने का विधायक सिंघवी ने कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाया हैं। कांग्रेस ने चुनाव के दौरान कर्जमाफी का किया वायदे में स्पष्ट तरीके से किसानो को जानकारी नही दी और जनता से झूठ बोलकर सत्ता पर आसीन होने के बाद कांग्रेस ने किसानो के कर्जमाफी में अनेक प्रकार के नियम व शर्ते लगा दी हैं। इन नियमों मे किसान उलझने से कर्जमाफी से वंचित रहना पड़ सकता हैं। विधानसभा चुनाव के दौरान प्रदेश के किसानो के साथ कर्जमाफी का किया वायदा तो अभी तक पूरा नही हुआ कि उधर कांग्रेस झूटी वाही-वाही लूटने के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की जयपुर मे किसान आमसभा करवा रही हैं। उन्होने आरोप लगाया कि कांग्रेस की सरकारों ने समय रहते किसानो के हितो से जुड़ी परियोजनाओं को पूरा किया होता तो आज किसानो को कर्ज लेने की आवश्यता नही पड़ती। पूर्व में कांग्रेस की सरकारो ने प्रदेश के किसानो को कर्ज लेने पर मजबूर किया और अभी-भी कांग्रेस कर्जमाफी के नाम पर गुमराह करने का आरोप लगाया हैं।