अपराधियों की गिरफ्तारी का प्रतिशत बढ़ा

छबड़ा, गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष छबड़ा क्षेत्र में बलात्कार व हत्या के प्रयासो के मामलों मे पच्चीस फीसदी गिरावट आई हैं वही सामान्य भूमि विवाद व आपसी-पड़ौसी लडाई-झगडों के सामान्य प्रकरणों में वृद्धि हुई है। तथा चोरी, लूट, नकबजनी इत्यादि मामलों का खुलासा करते हुए अपराधियों की गिरफ्तारी कर बरामदगी के प्रतिशत में भी बढ़ोत्तरी हुई हैं।
हाड़ौती क्षेत्र में अनंत चतुर्दशी का जुलुस कोटा के बाद दूसरे स्थान पर छबडा कस्बे में निकलता है जिसमें लगभग 50 हजार से अधिक महिला-पुरूष भाग लेते है। जिसकी हिंदू व मुस्लिम दोनों समुदायों के लोगो द्वारा प्रशंसा की। साथ ही श्रावण मास के अंतिम सोमवार को कस्बे में निकलती आ रही भव्य कावड यात्रा में लगभग पंद्रह हजार महिला-पुरूषो द्वारा भाग लिया जाता हैं। इसमें भी पुलिस प्रशासन पुख्ता इंतजाम किए गए।
सर्किल इंस्पेक्टर तारांचद बंशीवाल ने बताया कि पुलिस द्वारा वर्ष 2017 की तुलना में वर्ष 2018 में हत्या व बलात्कार के अपराधों में 25 प्रतिशत कमी आई है। वर्ष 2017 में बलात्कार के 12 मामलें दर्ज किए गए थे किंतु वर्ष 2018 में 9 ही प्रकरण दर्ज हुए है। वहीं हत्या के प्रयास के मामलें में वर्ष 2017 में 4 प्रकरण व 2018 में 3 प्रकरण दर्ज हुए है। महिला अत्याचार के मामलों में भी कमी आई है। इसके चलते 2017 में धारा 498ए भादस के 35 व 2018 में 32 प्रकरण दर्ज हुए है। जहां अन्य भादस की धाराओ में वर्ष 2017 में 321 प्रकरण व 2018 में 362 प्रकरण दर्ज हुए है। सम्पत्ति संबंधी अपराधीयों पर अंकुश लगाते हुए वर्ष 2018 में क्षेत्र में हुई चोरी, लूट, नकबजनी सहित अन्य मामलों का खुलासा करते हुए अपराधीयों की गिरफ्तारी कर बरामदगी करने मे पुलिस ने सफलता हासिल की थी। वर्ष 2017 में चोरी की वारदातों के 64 प्रकरणो में 21 प्रतिशत बरामदगी हुई जिसकी तुलना में वर्ष 2018 में दर्ज 78 प्रकरणों में 69 प्रतिशत मामलों में गिरफ्तारी व बरामदगी हुई है। नकबजनी की वारदातों में वर्ष 2017 में 8 प्रकरणों में 44 फीसदी बरामदगी व गिरफ्तारी की तुलना में वर्ष 2018 में 9 प्रकरणों में 86 प्रतिशत बरामदगी व गिरफ्तारी हुई है। लूट के वर्ष 2017 में 2 एवं 2018 में भी 2 ही प्रकरण दर्ज हुए हैं। इन दोनो मामलों में शत प्रतिशत बरामदगी व अपराधीयों की गिरफ्तारी पुलिस द्वारा की गई। एवं वर्ष 2017 में हत्या के 2 प्रकरण एवं 2018 में हत्या के 3 प्रकरण दर्ज हुए थे जिनमें से 2 प्रकरणों में आरोपियों की गिरफ्तारी करते हुए उनके खिलाफ अदालत में चालान पेश किए गए। एवं एक मामला एफआर एक्सीडेन्टल का पाया जाने पर एफआर अदालत में पेश की गई। अपहरण, व्यपहरण (लडकियां, महिला भगाकर ले जाने संबंधी मामलें) के वर्ष 2017 में 12 मामले एवं 2018 में 21 मामलें किए गए। इनमें से 20 मामलों में दर्ज हुये है। जिनमें से 20 प्रकरणों में लडकियों को बरामद किया जाकर आरोपियों की गिरफ्तारी की गई। पुलिस द्वारा अपराधियों पर शिकंजा कसते हुए उनके खिलाफ चलाया अभियान में 85 स्मैक का सेवन करने वाले व बैचने वालो के खिलाफ धरपकड कर कार्रवाई की गई है। मादक पदार्थो की तस्करी के खिलाफ की गई कार्रवाई में वर्ष 2017 में आबकारी अधिनियम के तहत 38 व 2018 में 54 प्रकरण दर्ज हुए है। अवैध स्मैक, अफीम, डोडा चूरा, गांजा की तस्करी के संबंध में वर्ष 2017 में 17 एवं 2018 में 18 प्रकरण दर्ज हुए हैं। जुआ-सट्टा की रोकथाम के लिए की गई कार्रवाई में वर्ष 2017 में 112 प्रकरण व 2018 में 117 प्रकरण दर्ज करते हुए 3 लाख 72 हजार 430 रुपये बरामद किए गए। अवैध हथियार तस्करी के वर्ष 2017 में कुल 12 व 2018 में 41 प्रकरण दर्ज हुए इनमें 4 पिस्टल 4 देशी-कट्टे, 8 मैंगजीन व 7 राउंड एवं 36 धारदार हथियार बरामद किए गये। 107,151 सीआरपीसी में वर्ष 2017 में 899 व्यक्ति एवं 2018 में 932 की गिरफ्तारी की गई। धारा 110 जा0फो0 के तहत वर्ष 2017 में 281 व 2018 में 356 व्यक्तियों को पाबंद करवाया गय। पाबंदशुदा व्यक्तियों के विरुद्ध धारा 122 जा0फो0 के तहत वर्ष 2017 में 12 एवं 2018 में 32 कार्रवाई की गई।

वही गत 3 अक्टूबर को एक किसान का 20 हजार रुपये से भरा बेग चोरी हो गया था। उसके अगले छीपाबडौद में भी एक महिला मे भी 40 हजार रुपए छीनकर भागने की घटना भी घटित हुइ थी। पुलिस इन दोनो वारदातो को चुनौती के रूप मे लेते हुए घटना के चौबीस घंटे मे ही दोनो वारदातो को खुलासा करते हुए नगदी राशि भी बरामद की।

तथा गत दो नवम्बर को भारत विकास परिषद के गेट के पास से एक अर्न्तराज्जीय अवैध हथियार तस्कर महेश सिंह राजपुत को गिरफ्तार कर चार पिस्टल 0.32 बोर व 8 मैगजीन बरामद किए गए थे। आरोपी से पूछताछ के दौरान छबडा, बापचा, छीपाबडौद की पुलिस ने 8 हथियार बरामद किये गये थे। इसी प्रकार गत 14 नवम्बर को छबडा निवासी चन्द्रप्रकाश जैन के मारपीट कर नगदी रुपयों से भरा बैंग छीनकर अज्ञात चोर भाग गए थे। पुलिस ने इस मामलें को तत्काल पर्दाफाश करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार कर लूटी गई रकम 101500 रु. भी बरामद कर लिए गए थे। एवं छबडा कस्बे मे स्थित केन्द्रीय सहकारी बैंक शाखा छबड़ा में गत माह सितंबर में अज्ञात चोर ने ताले तोडकर सीसीटीवी कैमरे तोड़कर एटीएम व बैंक में चोरी करने का प्रयास किया था। जिसके बाद गत 16 नवम्बर को बडौदा राजस्थान क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक शाखा छबडा का चैनलगेट का ताला तोड़कर सीसीटीवी कैमरे तोड दिए थे और बैंक मे रखी एवं तिजोरी को तोड़ने का प्रयास किया था। पुलिस ने भी इन दोनो घटनाओ को गंभारता से लेते हुए छह दिनों में इन दिनों घटनाओ का पर्दाफाश करते हुए आरोपी की गिरफ्तार करने मे पुलिस ने सफलता हासिल कर ली। पूछताछ के दौरान इस आरोपी ने छबडा, रतलाम, अटरू, छीपाबडौद, अंता में लगभग दो दर्जन नकबजनी की वारदाते कबूली।