छबड़ा, छबड़ा में राजस्थान कुशवाह क्षत्रिय महासभा की बैठक आहूत हुई जिसमें संभागीय कार्यकारणी एवं जिला कार्यकारणी का विस्तार कर दिया गया हैं। बैठक में कई जिलो के समाज के लोगो ने भाग लिया।

राजस्थान कुशवाह क्षत्रिय महासभा के पूर्व संभागीय अध्यक्ष एडवोकेट डीसी कुशवाह ने बताया कि महासभा की बैठक कस्बे के बाहरी दरवाजे पर स्थित शंकर झरी मंदिर पर बैठक संपन्न हुई। कार्यकारणी का गठन प्रदेशाध्यक्ष एड़वोकेट रमेशचंद कुशवाह, प्रदेश महासचिव मुकुट कुशवाह व युवा महासभा अध्यक्ष घनश्याम कुशवाह की देख रेख मे किया गया। बैठक में बारां जिला कार्यकारणी का विस्तार करते हुए प्रेमनारायण कुशवाह छबड़ा को जिलाध्यक्ष, परमानंद कुशवाह मूंडला को वरिष्ठ उपाध्यक्ष, रूपचंद कुशवाह सारथल को उपाध्यक्ष, रामकल्याण कुशवाह छबड़ा को महामंत्री के पद पर सर्वसम्मति से नियुक्त कर दिया गया हैं। वही कोटा संभाग कार्यकारणी में संभागीय अध्यक्ष शिवराज कुशवाह छबड़ा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष जमनाशंकर कुशवाह इटावा, उपाध्यक्ष दीनदयाल कुशवाह हरनावदा शाहजी, महामंत्री लक्ष्मीचंद कुशवाह छीपाबड़ौद, सचिव गिरधारी लाल कुशवाह शोरती व पुरूषोत्तम कुशवाह छबड़ा को बनाए गए हैं। तथा युवा महासभा में जिलाध्यक्ष विनीत कुशवाह खिरिया, उपाध्यक्ष सुरेश कुशवाह, रामनिवास कुशवाह बमोरा, महामंत्री भंवरलाल कुशवाह छबड़ा, सचिव रिंकू कुशवाह छबड़ा व महेश कुशवाह बमोरा को बनाए गए हैं। साथ ही युवा महासभा में संभागीय अध्यक्ष पप्पू कुशवाह नाहरगढ़, उपाध्यक्ष रवि कुशवाह छबड़ा, रामस्वरूप कुशवाह छबड़ा, संगठन सचिव धनराज कुशवाह बपावरकलां, शिवचरण कुशवाह छबड़ा, दुलीचंद कुशवाह शोरती, प्रचार मंत्री हरकचंद कुशवाह शोरती को बनाए गए हैं। साथ ही प्रदेश संरक्षक के पद की जिम्मेदारी लक्ष्मीनारायण कुशवाह कोटा को सौंपी गई हैं। इस बैठक में महासभा के पदाधिकारियों सहित अजमेर, जयपुर, भरतपुर, टोंक, सवाई माधोपुर, कोटा, बूंदी, बारां, झालावाड़ सहित कई जिलो के समाज के लोगो ने भाग लिया। इस दौरान वक्ताओं ने समाज मे व्याप्त कुरूतियां जैसे नुक्ता प्रथा (मृत्युभोज), बाल विवाह, चूड़ी प्रथा, कन्या भ्रण हत्या, दहेज प्रथा, नशाखोरी आदि पर अंकुश लगाने के साथ शिक्षा के प्रचार पर बल देने की बात कही। वही लक्ष्मीनारायण कुशवाह छीपाबड़ौद द्वारा सामाजिक जागरण के रूप में मनमोहक गीत की प्रस्तुती भी दी गई।