कांग्रेसी पार्षद के खिलाफ थाने में मामला दर्ज

सफाई कर्मीयो ने दी हड़ताल की चेतावनी
पालिका कर्मीयो ने दिनभर किया कार्य का बहिष्कार

छबड़ा, छबड़ा नगरपालिका के कांग्रेसी पार्षद द्वारा सरकारी संपत्ति तोड़-फोड़ कर अधिशासी अधिकारी के साथ अभद्रता कर राजकार्य मे बाधा पहुंचाने का मामला कांग्रेसी पार्षद के खिलाफ थाने मे दर्ज किया गया।

नगरपालिका अधिशासी अधिकारी संदीप गहलोत ने बताया कि वे गुरूवार को अचानक कांग्रेसी पार्षद संजय शर्मा पालिका कार्यालय में प्रवेश कर पालिका कर्मी राजेश यादव के पास गए और जाते ही आमद रजिस्ट्रर मांगने लगे नही देने पर पालिका कर्मी से गाली-गलौच कर जातिसूचक शब्दो से अपमानित कर मारपीट के लिए अमादा हो गए। जिसके बाद कांग्रेसी पार्षद शर्मा सफाई शाखा प्रभारी के कमरे मे घुसकर सफाई इंस्पेक्टर युसुफ खान के साथ गाली-गलौच कर अभद्र व्यवहार कर मारपीट के लिए उतारू हो गए। उनसे मना करने के बाद नही माने और उनके कमरे मे रखी टेबल पर रखा कांच को तोड़ दिया वही कमरे मे रखी कुर्सियां एवं दिव्यांगो के उपयोग मे आने वाली व्हील चेयर को उलट-पुलट कर दी। इसकी आवाज सुनकर अधिशासी अधिकारी संदीप गहलोत भी वहां पहुंचे तो उनके साथ भी अमानवीय व्यवहार कर अभद्रता से पेश आए और राजकार्य मे बाधा ड़ालकर उनके गाली-गलौच कर मारपीट के लिए भी उतारू हो गए। जिसके बाद कांग्रेसी पार्षद द्वारा पालिका के सभी कर्मीयो को धमकी दी गई कि अब सरकार बदल गई हैं। आप भी अपनी कार्यशैली को बदल ले अन्यथा इसके अंजाम बुरे होगे। पालिका कार्यालय में सरकारी संपत्ति तोड़-फोड़ व कार्यालय में उत्पात मचाने की घटना से क्षुब्ध होकर अधिशासी अधिकारी गहलोत उनके पालिका कर्मीयो को साथ लेकर थाने मे पहुंचकर कांग्रेसी पार्षद के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवा दी। इस मामले मे पुलिस ने बताया कि पालिका के अधिशासी अधिकारी द्वारा दिए परिवाद को दर्ज कर जांच शुरू कर दी हैं। पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए गुरूवार तीसरे पहर इस मामले की जांच कर रहे हैड कांस्टेबल रमेश ने मौके पर पहुंचकर जांच-पड़ताल कर घटनास्थल का जायजा लिया और अधिशासी अधिकारी व पालिका कर्मीयो के बयान भी दर्ज कर लिए गए हैं और जांच भी शुरू कर दी हैं।

जिसके पश्चात् ईओ, पालिका कर्मी, सफाई कर्मी उपजिला कलैक्टर कार्यालय पहुंचे जहां उपजिला कलैक्टर हेमराज परिड़वाल से इस घटना के आरोपी कांग्रेसी पार्षद संजय शर्मा को तत्काल गिरफ्तार कर पद से निष्कासित करवाने की पुरजोर शब्दो मे मांग की हैं। वही इस घटना से नाराज पालिका कर्मीयो ने गुरूवार को कार्य का बहिष्कार कर पालिका परिसर मे बैठे रहे। उधर, सफाई कर्मीयो ने बताया कि गुरूवार को घटित हुई घटना के आरोपी जब तक गिरफ्तार नही होगा तब तक वे कस्बे की सफाई व्यवस्था को ठप्प रखेगे। इस मामले में पालिका के कांग्रेसी पार्षद संजय शर्मा ने इस प्रतिनिधि को बताया कि उनके वार्ड में पालिका द्वारा लगवायें शौचालयों की गत छह माह से सफाई नही हो पा रही हैं जिसके बावजूद भी ठेकेदार को बिना कार्य किए ही भुगतान किया जा रहा हैं। इसकी शिकायत करने वे पालिका कार्यालय में गए थे। किंतु अधिशासी अधिकारी ने इस शिकायत को गंभीरता से नही लेते हुए उन्हे संतोषप्रद जबाब नही मिलने के कारण दोनो के मध्य मामूली कहा-सुनी हुई थी। उन पर सरकारी संपत्ति तोड़-फोड़ कर राजकार्य मे बाधा ड़ालने का झूठा मामला दर्ज करवाया हैं।