राजस्थान, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ में महिलाओं पर सर्वाधिक हुए अत्याचार : सिद्धू

सभा स्थल पर बना रहा अव्यवस्थाओ का आलम

सिद्धू ने छबड़ा में दो हजार लोगो को संबोधित किया

‘बुरे दिन जाने वाले है, राहुल भैया आने वाले हैं’

छबड़ा। छबड़ा-छीपाबड़ौद विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याक्षी के समर्थन में पंजाब सरकार के पर्यटन मंत्री एवं पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू की छबड़ा में आयोजित हुई चुनावी सभा में कांग्रेसी नेता भीड़ नही जुटा पाए। सभा स्थल पर अव्यवस्थाओ को आलम बना रहा। इसके चलते इस सभा को असफल माना जा रहा हैं।

छबड़ा-छीपाबड़ौद विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याक्षी के समर्थन में पंजाब सरकार के पर्यटन मंत्री एवं पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू की चुनावी आमसभा का दो दिन पूर्व कार्यक्रम निर्धारित हो गया था। इस निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार पंजाब के मंत्री सिद्धू रविवार को हेलिकॉप्टर से समय से पूर्व ही खेल मैदान मे पहुंच गए थे। इनके पहुंचने से पूर्व सभा स्थल पर केवल लगभग सौ लोगो की ही भीड़ थी। किंतु इनके हेलिकॉप्टर की आवाज सुनकर आस-पास, बाजार व दुकानो पर खड़ी भीड़ लगभग एक हजार की संख्या मे लोग इन्हे देखने के लिए हेलिपेड़ पर पहुंच गए। जैसे ही मंत्री सिद्धू हेलिपेड़ से सभा स्थल पर पहुंचे वैसे ही वही भीड़ भागकर उन्हे सुनने सभा स्थल पर पहुंच गई। इनके चलते भाषण के दौरान पांच सौ से एक हजार के मध्य लोग इन्हे सुनने के लिए पहुंच गए। इस प्रकार इस सभा में लगभग दो हजार की भीड़ पहुंचने से यह चुनावी आमसभा विफल मानी जा रही हैं। सभा स्थल पर पहुंची भीड़ ने मंच के सामने ही खड़े होकर मंत्री सिद्धू के भाषण सुने इस कारण सभा स्थल पर अव्यवस्थाओ को आलम बना रहा। मंत्री सिद्धू ने इस चुनावी आमसभा में राजनीति भाषण देने के बजाय ज्यादातर हास्यप्रद वक्तव्य जनता को सुनाए। जिससे जनता बार-बार तालियां बजाकर नारेबाजी करती रही। कांग्रेस प्रत्याक्षी के समर्थन में आयोजित हुई इस चुनावी आमसभा में कांग्रेसी नेता अपेक्षित भीड़ नही जुटा पाने से पांड़ाल पूरा खाली नजर आया। इतना ही नही कि मंच के सामने पार्टी के वरिष्ठ नेताओ एवं मीड़िया कर्मीयो के लिए उचित बैठक व्यवस्था नही करने से उन्होने पूरा समय खड़े होकर ही गुजारना पड़ा। इस चुनावी आमसभा को संबोधित करने पहुंचे मंत्री सिद्धू ने केंद्र व राज्य मे आसीन भाजपा सरकारो पर जमकर प्रहार करते हुए भाजपा सरकार को पूजीपतियों की सरकार होना बताया। उन्होने कहा कि राजस्थान, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ में अधिकतर महिलाओं पर अत्याचार हुए हैं। जिस प्रदेश में महिलाओ का सम्मान नही होता उस राज्य का पतन होना निश्चित हैं। उन्होने केंद्र सरकार पर पेट्रोल, ड़ीजल, रसोई गैस के दाम बढ़ाने तथा महंगाई चरम सीमा पर पहुंचने का आरोप लगाते हुए गरीबी को रोजी-रोटी दिलाने वाली कांग्रेस सरकार के पक्ष मे मतदान करने की अपील की हैं। बताया जा रहा हैं कि विधानसभा चुनाव का बिगुल बजने के बाद अब तक हुई चुनावी आम सभाओ में से रविवार को आयोजित हुई मंत्री सिद्धू की सभा मे सबसे कम भीड़ नजर आई। यह भी बताया जा रहा हैं कि कांग्रेसी प्रत्याक्षी के समर्थन मे रविवार को हुई मंत्री सिद्धू की आमसभा से क्षेत्र के मतदाताओ पर कोई प्रभाव नही पड़ता नजर आ रहा हैं।