क्षेत्र के गांव लक्ष्मीपुरा व शंकर कॉलोनी मे की कार्रवाई,
दस आरोपी किए गिरफ्तार
पुलिस कर्मीयो की गाड़ियो को देख गांव से भागे ग्रामीण

जमनालाल यादव

छबड़ा। आगामी होने जा रहे विधानसभा चुनाव को मद्देनजर रखते हुए अवैध हथकढ़ कच्ची शराब माफियाओ के खिलाफ गांव लक्ष्मीपुरा व शंकर कॉलोनी में आबाकारी व पुलिस विभाग ने संयुक्त रूप से छापामार कार्रवाई कर लगभग आठ हजार हथकढ़ कच्ची शराब का वॉश नष्ट कर दस आरोपियो को गिरफ्तार मौके पर से इनके कब्जे से 81 लीटर कच्ची शराब से भरी बोतले भी बरामद कि गई एवं पंद्रह भट्टियां भी नष्ट की।

आबकारी निरीक्षक वृत छीपाबड़ौद भीयाराम गोदारा ने बताया कि आगामी होने जा रहे विधानसभा चुनाव को मद्देनजर रखते हुए अवैध हथकढ़ कच्ची शराब माफियाओ के खिलाफ गांव लक्ष्मीपुरा व शंकर कॉलोनी में गुरूवार प्रातः आबकारी अधिकारी ईपीएफ कोटा रामलाल मीणा, जिला आबकारी अधिकारी तपेशचंद जैन के नेतृत्व में दोनो गांवो में अवैध हथकढ़ कच्ची शराब का पनप रहे अवैध गौरखधंधे को अंजाम दे रहे लोगो की बस्ती में पुलिस कर्मीयों व आबकारी कर्मीयों ने संयुक्त रूप से छापा मारकर कार्रवाई की। इसमें गांव लक्ष्मीपुरा में निवास कर रहे सांसी समाज की बस्ती मेंं से ड्रमों व जरकीनो में भरी लगभग आठ हजार लीटर हथकढ़ कच्ची शराब की वॉश एवं शंकर कॉलोनी में निवास कर रहे कंजर समुदाय की बस्ती मे पहुंचकर एक हजार लीटर वॉश नष्ट की।. एवं दोनो गांवो की बस्तियों मे से हथकढ़ कच्ची शराब बनाने के उपयोग मे ली जा रही लगभग पंद्रह भट्टियां भी नष्ट की। तथा भट्टियों मे प्रयुक्त बर्तनो को भी जब्त किया गया। वही जमीन मे गाड़ रखे बड़े-बड़े ड्रमो की वॉश को भी नष्ट किया गया। इस दौरान पुलिस व आबकारी विभाग ने संयुक्त रूप से की गई इस छापामार कार्रवाई में लक्ष्मीपुरा निवासी मनोज, ज्ञानचंद, राकेश, शंभु, माखन, बनवारीलाल, पप्पू, दिलीप, अनिल, काली बाई जातिगण सांसी को मौके पर से गिरफ्तार कर इनके कब्जे से 81 लीटर हथकढ़ शराब की बोतले बरामद करने में सफलता हासिल की हैं। इस छापामार कार्रवाई में छबड़ा पुलिस उप अधीक्षक परमाल सिंह, बालकृष्ण शर्मा आबकारी निरीक्षक बारां, मुकेश प्रजापति आबकारी निरीक्षक झालावाड़, ताराचंद बंशीवाल थानाधिकारी छबड़ा, आशीष भार्गव थानाधिकारी बारां, रामवल्लभ आरआई बारां, भगाराम आबकारी निरीक्षक वृत शाहाबाद सहित थाना एवं आबकारी थाने के लगभग 100 पुलिस जवान इस कार्रवाई मे शामिल थे। वही इन दोनो गांवो मे आकस्मिक कार्रवाई करने पहुंचे आबकारी व पुलिस कर्मीयों की गाड़ियों को देख ग्रामीण गांव छोड़कर मौके पर से भाग गए।