पचपन फुट ऊंचे रावण का होगा दहन
नवरात्रा के अंतिम दिन पांड़ालो मे उमड़ा सैलाब
दुर्गा प्रतिमाओ का विसर्जन आज

जमनालाल यादव पत्रकार
छबड़ा। छबड़ा कस्बे की रेणुका नदी के तट पर विजयादशमी पर्व पर पचपन फुट ऊंचाई के रावण के पुतले का दहन आज किया जाएगा। इस वर्ष रावण दहन के दौरान आकर्षक आतिशबाजी की जाएगी।

पालिका के अधिशाषी अधिकारी संदीप कुमार गहलोत ने बताया कि प्रतिवर्ष की भांति भी नगर पालिका द्वारा रेणुका नदी के तट पर विजयादशमी के पर्व पर रावण के पुतले का दहन किया जाएगा। इससे पूर्व गाजे-बाजे के साथ रथ मे सवार होकर राम-लक्ष्मण एवं शिव-पार्वती, राधा-कृष्ण, सरस्वती इत्याादि आधा दर्जन झांकियां सजाकर तीसरे पहर गायत्री मंदिर पर एकत्रित होगी। जहां से गाजे-बाजे के साथ मुख्य मार्गाे से होता हुआ जुलुस धरनावदा चैराहा, आजाद सर्किल, लोटा भैरू, अलीगंज बाजार, छत्री चैराहा होता हुआ नदी दरवाजे के निकलकर रेणुका नदी के तट पर पहुंचेगा। इस जुलुस में व्यायाम शाला के अखाड़ा के कलाकार विभिन्न अपनी कलाओ का करतब का प्रदर्शन करते हुए चलेगें। नदी के तट पर पहुंचकर भगवान राम द्वारा अहंकारी रावण का दहन करेगे। नगर पालिका के तत्वाधान मे किए जा रहे इस पचपन फुट ऊंचाई के रावण दहन से पूर्व आकर्षक आतिशबाजी की जाएगी। उसके बाद रावण दहन के दौरान रावण आंखे टिमटिमायेगा, तलवार घुमाऐगा, आग के गोले छोड़ेगा एवं चकरी चलाएगा। रावण दहन स्थल पर कानून व्यवस्था के लिए पुलिस प्रशासन द्वारा माकूल व्यवस्था करते हुए अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया जाएगा। तथा निकलने वाले जुलुस मे भी पुलिस कर्मी तैनात रहेगे।

दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन आजः- गत 10 अक्टूबर से शुरू हुए शक्ति की आराधना का पर्व नवरात्रा महोत्सव का गुरूवार को समापन हो गया। एवं नवरात्रा के अंतिम दिन दुर्गा प्रतिमाओं का आकर्षक श्रृंगार कर महाआरती का आयोजन किया गया इस दौरान श्रद्धालुओ का जनसैलाब उमड़ने से पांड़ाल छोटे पड़ गए। पालिका क्षेत्र के स्टेशन रोड़, धरनावदा चैराहा, ऐजाज नगर, नेहरू नगर, इंद्रा काॅलोनी, टाॅवर काॅलोनी, अहिंसा सर्किल, लोठा भैरू, अलीगंज बाजार में वाल्मिकी समाज द्वारा, यादव मोहल्ला, पुरानी सब्जी मंडी, रेणुका नदी के समीप, बाहरी दरवाजा, आयुर्वेदिक चिकित्सालय के सामने सहित गली-मोहल्ल्लों एवं गांव-गांव, ढाणी-ढाणी मे सजाया गया माता के दरबार में श्रद्धालुओं की हजारो की संख्या मे भीड़ नजर आई। साथ ही नवरात्रा प्रारंभ होने के साथ श्रद्धालुओ नें नौ दिनो तक अखंड़ व्रत रहकर मां शक्ति की आराधना की। गुरूवार को घरो में भक्तो ने कुलदेवी की आराधना कर कन्या भोज का आयोजन भी रखा गया। तो वहीं गंावो मे सजाई गई मां दुर्गा की आकर्षक झांकियो ने चहल-पहल नजर आई। तो वही शुक्रवार को मुख्य बाजार एवं गली मोहल्लों मे सजाई दुर्गा प्रतिमाओं को नदी मोहल्ला मे एकत्रित किया जाएगा। वहां से पक्तिबद्ध तरीके से डीजे पर चल रहे माता के भजनो पर झूमते हुए भक्त दुर्गा प्रतिमाओं की शोभायात्रा के साथ चलेगे। यह शोभायात्रा मुख्य मार्ग से होती हुई गुगोर गांव के समीप प्रवाहित हो रही पार्वती नदी में दुर्गा प्रतिमाओ का विसर्जन किया जाएगा।