कोटा – नवरात्रि जहां मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा अर्चना का त्यौहार है। वहीं युवाओं के बीच इसकी पहचान गरबा और डांडिया से जुड़ी है। वहीं नवरात्रि के पहले दिन महावीर नगर प्रथम में माता जी की चैकी रखी गई। जिसमेें घट स्थापना और कलश स्थापना कर बड़े ही आध्यात्मिक ढ़ंग से माता जी की पुजा अर्चना की गई। वहीं मंदिर के कार्यकर्ता सुनील सोनी ने
बताया कि हर साल की तराह इस साल भी बड़े ही धुम-धाम से माता जी प्रतिमा रखवाई गई। उन्होने बताया कि वे हर साल ये कार्यक्रम करते हैं। जिसमें सभी मोहल्ले वासी भाग लेतें है और माता जी को बड़े ही आध्यात्मिक तरीके से नौ दिन तक माता
जी की पुजा अर्चना करते है और नवें दिन कन्याओं का जिमाया जाता है। वहीं आखरी दिन माता जी को विदा किया जाता है। वहीं मंदिर पर माता जी की पुजा के कार्यक्रम के बाद में महिलाओं ने गरबा और डांडिया का प्रोगाम किया गया। जिसमें
सभी महिलाऐं माता जी के गानों पर थिरकती रही। वहीं छोटी-छोटी कन्याऐं भी माता जी के गानों कर थिरकती नजर आई। कार्यक्रर्ताओं में सुनील सोनी, अनुभव मित्तल,आशु सोनी, गिरर्राज मालव, मुरली मालव, रमाकांत शर्मा, सुनील
शर्मा, कल्लु आदि मौजुद थे।