जयपुर – दिल तो बच्चा है जी, बिल्कुल सच्चा है जी।
इसी धुन को चरितार्थ करते हुए सक्षम संस्थान द्वारा आयोजित रन फ़ॉर ह्यूमैनिटी में हर उम्र के , हर वर्ग के लगभग दस हजार लोगों ने दौड़ कर एक मिसाल कायम की।
सुबह सवेरे पांच बजे से ही लोगों में उत्साह और जोश देखने लायक था, प्रतिभागियों के रेजिस्ट्रेशन के आठ काउंटर लगाए गए थे , जिसमे निशुल्क रेजिस्ट्रेशन करा कर हज़ारों लोग कदम से कदम मिलाते हुए आगे बढ़ने को तैयार रहे ।
आयोजक अप्लव सक्सेना ने बताया कि रन फ़ॉर ह्यूमैनिटी के तीसरे सीजन की तैयारी सक्षम संस्थान द्वारा पिछले तीन महीनों से की जा रही थी, आज दिखा लोगों का उत्साह उसी का परिणाम था जहाँ ना केवल लड़के बल्कि लड़कियों ने भी जोश के साथ दौड़ लगा कर कड़ी टक्कर दी।

सक्षम संस्थान की अध्य्क्ष अनीता सक्सेना व प्रोग्राम मैनेजर इवादीप सक्सेना ने बतया कि इस कार्यक्रम में यूनिवर्सिटी ऑफ इंजीनियरिंग एंड मैनेजमेंट, इटरनल हॉस्पिटल, जे के मसाले, टेक्नो मोबाइल , स्वदेश ऑप्टिकस का विशेष सहयोग रहा। विश्व हृदय दिवस पर आयोजित इस दौड़ में , 6 साल से लेकर 79 साल तक के प्रतिभागियों ने भाग लिया। जिसमे विभन्न देशों में सात गोल्ड मैडल जीतने वाली 79 वर्षीय महिला भी शामिल रहीं।
दौड़ की शरुआत जयपुर शहर मेयर डॉ अशोक लाहोटी ने की, वहीं विजेताओ पुरुस्कार वितरण भा जा पा जिला अध्यक्ष संजय जैन व समाज सेवी पवन गोयल, बार कॉउंसिल के अध्य्क्ष डॉ सुनील शर्मा, रिटायर्ड पुलिस अधिकारी नटवर सिंह, शहर भा जा पा की अद्यक्ष अध्य्क्ष कविता मालिक