छबड़ा:- छबड़ा के अमरचंद राजकुमारी बरड़िया जैन विश्वभारती स्नातकोत्तर महाविद्यालय में राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस के अवसर पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया।

महाविद्यालय प्राचार्य डॉ. आर.सी. मीना एवं राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारी अशोक भार्गव ने बताया कि महाविद्यालय में राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें छात्र-छात्राओं को राष्ट्रीय सेवा का इतिहास एवं महत्त्व के बारे में बताया गया कि महाविद्यालयों में राष्ट्रीय सेवा योजना को 1969 में खेल मंत्रालय द्वारा प्रारम्भ किया गया। राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयं सेवक बनने पर किस प्रकार से कार्य किया जाता है। इस पर प्रकाश डाला गया। राष्ट्रीय सेवा योजना का लक्ष्य ‘मैं नही, पहले आप के’ आधार पर लोगों की सहायता की जाती है। इस अवसर पूर्व कार्यक्रम अधिकारी ड़ॉ बिरधीलाल बैरवा, डॉ. अतुलश्रीवास्तव, भूपेन्द्र भार्गव, आदि ने विचार व्यक्त किये एवं छात्रसंघ अध्यक्ष बिट्ठल मीना ने छात्रो को ज्यादा से ज्यादा संख्या में जुड़ने के लिए प्रेरित किया। प्राचार्य मीना ने सभी विद्यार्थियो को राष्ट्रीय सेवा योजना की विषय-वस्तु के बारे मे बताते हुए कहा कि इसके माध्यम से अच्छा कार्य करके राष्ट्रपति से भी पुरस्कृत हुआ जा सकता है। इसके तहत पर्यावरण संरक्षण, साक्षरता एवं शिक्षा, सामाजिक एवं आर्थिक कार्य, स्वच्छता आदि पर विषयों पर कार्य किया जाता है।