रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) मतदान प्रत्येक मतदाता का अधिकार है और उसे उसका उपयोग करना चाहिए। रावतभाटा उपखंड के बोराव ग्राम पंचायत में शनिवार को आयोजित दिव्यांग मतदाता जागरूकता शिविर में उक्त विचार उप वन संरक्षक चित्तौड़गढ़ एस.पी. सिंह ने व्यक्त किए। उन्होने कहा कि जिला कलेक्टर इन्द्रजीत सिंह के निर्देशानुसार जिले के दिव्यांगो को मतदान के लिए प्रेरित करने के लिए विशेष अभियान संचालित किया जा रहा है, जिसके तहत जिले के 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी दिव्यांगजन को चिन्हित कर उनका मतदाता सूची में नाम जुड़वाना, मतदान केन्द्रों को बाधारहित बनाना तथा दिव्यांगो को मतदान करने की प्रक्रिया संबंधी जानकारी से अवगत कराने के कार्यों को सम्पूर्ण जिले में प्राथमिकता से करवाया जा रहा है। जिले में दिव्यांग मतदान के इस अभियान के प्रभावी संचालन के लिए जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अंकित कुमार सिंह को जिला कलेक्टर द्वारा प्रभारी अधिकारी भी नियुक्त किया हुआ है। उप वन संरक्षक ने इस अभियान के ब्लॉक रावतभाटा में प्रभावी संचालन में दिव्यांगो से सहयोग की अपेक्षा की है। तथा कार्यवाहक उपजिला कलेक्टर श्रीकान्त व्यास की अभिशंसा पर बोराव के दिव्यांग कैलाश सुथार को ब्लॉक रावतभाटा के लिए मतदान हेतु ब्राण्ड एम्बेसडर भी मनोनीत किया।

स्वीप कार्यक्रम के सहायक प्रभारी अधिकारी सहायक निदेशक ओमप्रकाश तोषनीवाल ने बताया कि जिले की सभी पंचायत समिति एवं बड़े-बड़े गावों में दिव्यांगजन को एकत्र कर मतदान प्रक्रिया संबंधी जानकारी देने हेतु दिव्यांग मतदाता जागरूकता कार्यशाला एवं शिविर का आयोजन किया जा रहा है, साथ ही दिव्यांगजन को प्राथमिकता से मतदान करवाने एवं मतदान केन्द्रों पर दिव्यांगो के अनुरूप सुविधा उपलब्ध कराने का भी प्रयास किया जा रहा है।

कार्यवाहक उपजिला कलेक्टर श्रीकान्त व्यास ने बताया कि सम्पूर्ण ब्लॉक के दिव्यांगजनों को मतदान की प्रक्रिया बताने हेतु ईवीएम एवं वीवीपेट की सम्पूर्ण जानकारी उपलब्ध करवायी जा रही है और उनसे ईवीएम मशीन पर कृत्रिम रूप से मतदान करवाकर उन्हे प्रशिक्षित भी किया जा रहा है। व्यास ने बताया कि शहरी क्षैत्र में दिव्यांग मतदाता जागरूकता कार्यक्रम नगरपालिका के माध्यम से एवं पंचायत समिति द्वारा ग्रामीण क्षैत्र में अभियान के रूप में संचालित किया जाएगा।
बैठक में अधिशाषी अधिकारी वीएस तोमर, ब्लॉक शिक्षा अधिकारी देवकीनंदन गौड़, आयुर्वेद चिकित्साधिकारी ओमप्रकाश मीणा, महिला एवं बाल विकास विभाग की श्रीमती सम्पत शर्मा, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सत्यनारायण शर्मा सहित कई अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।