रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) रावतभाटा नगर में राजकीय महाविद्यालय में दूसरी बार हुए छात्र संघ के चुनाव में मंगलवार को हुई मतगणना में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने महत्वपूर्ण पदों पर अपनी जीत का परचम लहराया। राजकीय महाविद्याय रावतभाटा में एबीवीपी के पैनल ने जीत हासिल की है। मतगणना में एबीवीपी ने अध्यक्ष, उपाध्यक्ष व महासचिव के पद पर जीत की बाजी मारी। जबकि एनएसयूआई को संयुक्त सचिव के पद पर ही संतोष करना पड़ा।
रावतभाटा राजकीय महाविद्यालय में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने छात्रसंघ चुनाव में अपनी शानदार जीत दर्ज की है। मतगणना समाप्त होने के बाद जैसे ही परिणाम की घोषणा हुई अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने ढोल-नगाड़ों के साथ जश्न मनाना शुरू कर दिया। रावतभाटा राजकीय महाविद्यालय में सवेरे 11 बजे मतगणना प्रारंभ हुई। रावतभाटा राजकीय महाविद्यालय में जारी छात्रसंघ चुनाव परिणामों में अध्यक्ष ममता गुर्जर, उपाध्यक्ष पूजा चौधरी एवं महासचिव पद पर पप्पूलाल धाकड़ अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की। जबकि संयुक्त सचिव पद पर एनएसयूआई के प्रत्याशी कमल किशोर ने विजय प्राप्त की। महाविद्यालय प्रशासन द्वारा मतगणना के पश्चात जैसे ही अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रत्याशियों की जीत का समाचार सुनाया तो कॉलेज परिसर में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद समर्थक कार्यकर्ताओं ने ढोल-नगाड़ों के साथ जश्न मनाना प्रारंभ कर दिया। तत्पश्चात कोटा बैरियर अंहिसा सर्किल से चारभुजा झालरबावड़ी तक विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने एक विशाल जुलूस निकाला। जुलूस में रंग-गुलाल से सरोबार समर्थक नाच कर जश्न मना रहे थे। तथा बधाईयों का दौर चलता रहा।

जुलूस में भी पुलिस जाब्ता कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए साथ चल रहा था। रावतभाटा राजकीय महाविद्यालय में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रत्याशियों की जीत के साथ ही विधानसभा चुनाव की सरगर्मियां प्रारंभ हो गई है, महाविद्यालय चुनाव परिणामों को आने वाले विधानसभा चुनाव की आहट के रूप में देखा जा रहा था। जिसमें एक बार फिर से स्थानीय विधायक सुरेश धाकड़ की छवि और भी मजबूत होकर उभरी है इन चुनाव को स्थानीय विधायक की प्रतिष्ठा का प्रश्न मानकर भी देखा जा रहा था जिसमें विधायक धाकड़ ने सफलता प्राप्त की है।

गौरतलब है कि 31 अगस्त को राजकीय महाविद्यालय रावतभाटा में छात्रसंघ चुनाव की मतगणना संपन्न होने के साथ ही मतपेटियों में बंद छात्र संघ के प्रत्याशियों का परिणाम सामने आया। इस दौरान अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का पैनल विजय हुआ। जिसमें से अध्यक्ष पद पर ममता गुर्जर को 230 एवं एनएसयूआई के निखिल परसेंडिया को 177 मत मिले, जिसमें एबीवीपी की ममता गुर्जर ने 53 वोट से एनएसयूआई के निखिल परसेंडिया को शिकस्त देकर विजयी हासिल की। इसमें 7 मत खारिज हुए। उपाध्यक्ष पद पर एबीवीपी की पूजा चौधरी को 213 व एनएसयूआई के निरमा कुमार धाकड़ को 184 मत मिले। जिसमें एबीवीपी की पूजा चौधरी ने 29 मतों से एनएसयूआई के निरमा कुमार धाकड को हराया। जिसमें से 17 मत खारिज हो गए है। तथा महासचिव पद पर एबीवीपी के पप्पूलाल धाकड़ को 222 व एनएसयूआई की मेघा गोचर को 174 मत मिले, जिसमें एबीवीपी के पप्पूलाल धाकड ने 48 मतों से एनएसयूआई की मेघा गोचर को हराया। तथा 18 मत खारिज हो गए है। वहीं संयुक्त सचिव पद पर एनएसयूआई के प्रत्याशी कमल किशोर ने एबीवीपी की साक्षी अरोड़ा को 1 वोट के अंतर से परास्त किया। संयुक्त सचिव पद पर एनएसयूआई के प्रत्याशी कमल किशोर को 197 व एबीवीपी की साक्षी अरोड़ा को 196 मत मिले। जिसमें से 21 मत खारिज हो गए। आपको बता दें कि राजकीय महाविद्यालय में कुल वोटर की संख्या 487 है जिसमें से 414 वोट डाले गए थे।

मतगणना में कार्यवाहक उपजिला कलेक्टर श्रीकांत व्यास, रावतभाटा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भवानीशंकर मीणा, पुलिस उपाधीक्षक दिनेश कुमार यादव, रावतभाटा थानाधिकारी दलपत सिंह राठौड़, भैंसरोड़गढ़ थानाधिकारी गोपालनाथ, जावदा थानाधिकारी शंकरलाल ओड़ व कॉलेज के प्राचार्य डी.एस. नरूका सहित कई अधिकारी मौजूद रहे।
मतगणना स्थल पर शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए रावतभाटा थानाधिकारी दलपत सिंह राठौड़ सहित सुरक्षा की दृष्टि से कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस जाप्ता भी तैनात था। तथा महाविद्यालय के बाहर छात्रसंघ के चुनावों के परिणाम के संबंध में दोनों ही पार्टीयों के कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी भारी संख्या में मौजूद थे। चुनाव परिणाम घोषणा के बाद कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों ने भारी आतिशबाजी कर खुशी व्यक्त की।