भाजपा पार्षदो ने बैठको में से कांग्रेसी पार्षदो को निलंबित करने की उठाई मांग

पंद्रह करोड़ रूपए के विकास कार्य करवाने का लिया प्रस्ताव

छबड़ा:- छबड़ा नगरपालिका के सभागार भवन मे हुई साधारण बैठक में पालिका द्वारा करवायें जा रहे विकास कार्यो में हो रहे भ्रष्टाचार को लेकर कांग्रेसी पार्षदो ने कुर्सीयां फैंक कर हंगामा कर दिया। इसके चलते बैठक मे विकास कार्यो पर चर्चा नही हो पाई।

बैठक मे कांग्रेसी पार्षद संजय शर्मा व प्रतिपक्ष नेता कासम खां द्वारा पालिकाध्यक्ष पिंकी साहू के साथ अभद्रता कर चलती बैठक में इनके द्वारा कुर्सियां फैंकने के इस कृत्य का पालिका के सभी भाजपा पार्षदो ने निंदा करते हुए आगामी बैठको मे इन दोनो कांग्रेसी पार्षदो को निलंबित करने की मांग स्वायत्त शासन विभाग से की। इस बैठक में सर्वसम्मति से पालिका के सभी 25 वार्डो में 15 करोड रूपए के विकास कार्य करवाने के प्रस्ताव लिए गए।

शुक्रवार को पालिका के सभागार भवन में पालिकाध्यक्ष पिंकी साहू की अध्यक्षता मे साधारण सभा आहूत की गई। बैठक के शुरूआत मे ही भाजपा पार्षद ज्योति नामदेव ने अपने तीखे तेवर बताते हुए कहा कि सरकार ने तीन माह मे एक बार बोर्ड बैठक आयोजित करने का नियम बना रखा हैं किंतु इन नियमों को ताक मे रखकर सात-आठ माह गुजर जाने के बाद बोर्ड बैठक बुलाई जाती हैं। उन्होनें खुले शब्दो में पालिका के भाजपा बोर्ड पर विकास कार्य करवाने मे भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा कि पालिका अब भ्रष्टाचार का अड्डा बन गई हैं। अपनी मनमर्जी से मनचाहे स्थान पर विकास कार्य करवाएं जा रहे हैं। बैठको में जो प्रस्ताव लिए जाते हैं उन पर अमल न कर अपनी इच्छा से ही विकास कार्य करवाने की बात कही हैं। उनके वार्ड में सामुदायिक भवन बनवाने कें लिए वे पिछले चार वर्षो से प्रयासरत हैं। इस कार्य का अनेको बार बैठको मे प्रस्ताव लिए जा चुके हैं किंतु आज तक इस पर अमल नही करने पर भी नाराजगी जताई हैं। भाजपा पार्षद नादिर मोहम्मद ने कहा कि वार्डो मे भेदभाव बरतकर विकास कार्य करवाएं जा रहे वे इसे बर्दाश्त नही करेगे। चलती बैठक मे अधिशाषी अधिकारी संदीप गहलोत ने पार्षदो से कहा कि बैठक में ऐजेंडा के अनुसार ही चर्चा करे अन्य मुद्दो पर नही। किंतु अधिकारी की इस बात से भाजपा व कांग्रेसी पार्षद सहमत नही होकर विकास कार्यो मे आरोप-प्रत्यारोप लगाते रहे। ईओ की इस वक्तव्य से क्षुब्ध होकर कांग्रेसी पार्षद संजय शर्मा अपनी कुर्सी पर से खडे़ होकर उसी कुर्सी को चलती बोर्ड बैठक में फैंक दिया, जिससें बैठक में काफी देर तक हंगामा व शोर शराबा चलता रहा। और चलती बैठक मे से भाजपा-कांग्रेसी पार्षद उठकर चले गए। इस कारण यह बैठक पूरी तरह हंगामे की भेंट चढ़ गई। पालिकाध्यक्ष पिंकी साहू ने बताया कांग्रेसी पार्षद संजय शर्मा के वार्ड एक मे तेरह निर्माण कार्यो पर पालिका द्वारा एक करोड़ तीस लाख रूपए व्यय किये गए थे जिसके बावजूद कांग्रेसी पार्षद द्वारा उन पर झूठे व बेबुनियादी भ्रष्टाचार के आरोप लगाये गए जो कि पूरी तरह गलत हैं। इस संबंध मे अधिशाषी अधिकारी संदीप संदीप गहलोत ने बताया कि बैठक में मुख्यमंत्री जन आवास योजना के तहत कटीखंडी सड़क मार्ग पर पालिका की पर ख.न. 822 रकबा 28 बीघा 4 बिस्वा में गरीबो के लिए 536 ईडब्ल्यूएस एवं 516 एलआईजी 1052 आवास पूर्व स्वीकृत दर पर संबन्धित संवेदको, फर्मो से बनाने का निर्णय लिया गया इन आवासो में नियमानुसार छूट दी जाएगी। बैठक में सर्वसम्मति से पालिका के सभी 25 वार्डो में 15 करोड रूपए के विकास कार्य करवाने के प्रस्ताव पारित किये गए। इस बैठक में हस्तांतरण शुल्क 5 प्रतिशत के स्थान पर 2.5 प्रतिशत करने का निर्णय लेकर निदेशालय से स्वीकृति हेतु भिजवाने का प्रस्ताव लिया गया। कृषि भूमि रूपांतरण पट्टो में 100 वर्ग गज तक 10 रूपये प्रति वर्गगज, 100 वर्गगज से अधिक 15 रूपये प्रति वर्ग गज लिए जाने का प्रस्ताव लिया व मोबाईल टावर, विवाह स्थल के बाइलाज का अनुमोदन भी किया गया।