रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) ब्लॉक मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जी.जे. परमार ने जानकारी देते हुए बताया कि राजस्थान में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के मिशन निदेशक नवीन जैन बेटियो को बचाने कन्या भ्रुण हत्या रोकने बाल लिंगानुपात प्रति 1000 लडको पर 888 लडकियां है। लिंगानुपात को सही करने हेतु किए जा रहे प्रयासो के क्रम में प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर पर बेटी पंचायत कार्यक्रम का आयोजन किया गया। विभाग के द्वारा बेटियो के जन्म को प्रोत्साहित करने के लिए भिन्न भिन्न कार्यक्रम किए जा रहे है। बेटियो को बचाने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा डॉटर्स आर प्रिशियस कार्यक्रम चलाया जा रहा हे। इसी क्रम में सितम्बर माह में शुक्रवार 7 सितंबर को ग्राम पंचायत बाडौलिया में डॉ. नवीन शर्मा, झरझनी में डॉ. जी.जे.परमार एवं डॉ. गोपाल धाकड़ ने आमजनो को सम्बोधित किया। भैंसरोड़गढ़ में सरपंच कन्हैयालाल की अध्यक्षता में डॉ. मनीष राठौर ने, झालरबावड़ी में डॉ. महेन्द्र मीना एवं मण्डेसरा पल्लवी सिंह द्वारा कार्यक्रम किया गाया। इस कार्यक्रम में लगभग 530 व्यक्तियों ने भाग लिया। सभी ग्राम पंचायतो पर विडियो फिल्म दिखा कर लोगो में जागरुकता लाने का प्रयास किया गया। बेटी क्यों है? अनमोल के बारे में लोगो को बताया गया। इस कार्यक्रम में सभी पंचायतो के ई-मित्रो ने भी अपना पूर्ण सहयोग दिया।