रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) एससी-एसटी एक्ट में हुए संशोधन के विरोध में सवर्ण संगठनों के देशव्यापी आव्हान पर रावतभाटा भी शांतिपूर्ण बंद रहा। यहां लगभग सभी दुकानें बंद रहीं। जिससे लाखों रूपयों का कारोबार प्रभावित होना माना जा रहा है। सुरक्षा के लिए प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी भ्रमण करते रहे। देशव्यापी आव्हान पर भारत बंद के ऐलान को व्यापारियों ने गंभीरता से लेते हुए समर्थन दिया और गुरुवार को लोगों ने अपनी स्वेच्छा से बंद का समर्थन करते हुए प्रतिष्ठान बंद रखे। शहर में बंद की वजह से आम दिनों की तरह गुरुवार को दुकाने खुली नजऱ नहीं आईं। लेकिन आवागमन के साधन सामान्य दिनों की तरह ही यात्रियों को मिले। स्वेच्छा से किये गए इस बन्द में सभी ने सहयोग किया। आलम यह रहा की मुख्य बाजारों के साथ ही गली मोहल्ले और गांवों में भी दुकाने बन्द नजर आईं। हां कुछ आवश्यक मसलन हाथ ठेला, दूध, दवा जैसी आवश्यक सेवाओं की दुकानों को छोड़कर बंद पूरी तरह सफल रहा। इधर सडक पर रोडवेज बसें और अन्य निजी सवारी वाहन सामान्य दिनों की तरह सडक़ों पर दौड़ते नजर आये। साथ ही निजी बसों का संचालन भी जारी रहा। गौरतलब है कि एसटी-एससी एक्ट के विरोध में सामान्य और ओबीसी वर्ग के आह्वान पर भारत बन्द का एलान किया गया था।

बन्द के आह्वान को लेकर विभिन्न संगठनों के कार्यकर्ताओं द्वारा बन्द का आह्वान करते हुए दोपहर 12 बजे सिनेमा चौराहे पर एकत्रित हुए, तथा जूलूस के रूप में उपखंड कार्यालय पहुंचकर कार्यवाहक उपजिला कलेक्टर श्रीकांत व्यास को राष्ट्रपति के नाम का ज्ञापन सौपा। बंद का समर्थन कर ज्ञापन सौपने वालों में रावतभाटा व्यापार संस्थान, चेतक मार्केट व्यवसायिक संस्थान, मोटर मार्केट व्यवसायिक संस्थान, जीवाजी मार्केट व्यापार संघ, सदर बाजार व्यापार संघ, चारभुजा व्यापार संघ, नया बाजार व्यापार संघ, मेड़तवाल वैश्य समाज, महर्षि गौतम समाज, श्रृंगी समाज, राजस्थान ब्राह्मण महासभा, महर्षि गौतम नवयुवक मंडल, अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा, परशुराम सेना, माहेश्वरी समाज, श्री मेढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार समाज, सेन समाज, कलाल समाज, अग्रवाल समाज, अखिल भारतीय पोरवाल महासभा, श्री महावीर जैन महामंडल, गुर्जर समाज, धाकड़, समाज, राठौर समाज, श्री राजपूत करणी सेना सहित कई संगठनों के पदाधिकारी मौजुद रहे।

एससी-एसटी एक्ट के विरोध में अभिभाषक भी खड़े हैं। बंद के समर्थन में अभिभाषकों ने न्यायिक कार्य स्थगित रखा। बंद को लेकर पेट्रोल पंप संचालकों की ओर से समर्थन देने के बाद सुबह से ही पेट्रोल पंप पर डीजल व पेट्रोल के लिए आने वाले वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा। इस मौके पर व्यापार महासंघ के कार्यकारी अध्यक्ष मनोहरलाल भट्ट व महासचिव आनंदप्रकाश शर्मा ने बंद को शांतिपूर्ण तरीके से सफल बनाने के लिए समस्त व्यापारियों व प्रशासन का आभार व्यक्त किया।
बंद को लेकर सुबह से रावतभाटा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भवानीशंकर मीणा, रावतभाटा पुलिस उपाधीक्षक दिनेश कुमार यादव, कार्यवाहक उपजिला कलेक्टर श्रीकांत व्यास, कार्यवाहक थानाधिकारी चौथमल वर्मा के साथ टीम ने नगर में भ्रमण किया और सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखी। बंद को लेकर चित्तौड़गढ़ पुलिस मुख्यालय से अतिरिक्त जाब्ता भी मंगवाया गया था। रावतभाटा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भवानीशंकर मीणा व पुलिस उपाधीक्षक दिनेश कुमार यादव ने कहा कि शांतिपूर्ण तरीके से अपनी बातों को रखा जाए। किसी को प्रतिष्ठान बंद करने के लिए जबदस्ती न की जाए, इसलिए हमारा दल सतर्क है। नगर के संवेदनशील क्षेत्रों सहित मुख्य सार्वजनिक स्थलों पर पुलिस बल तैनात रहा। बंद के मद्देनजर रावतभाटा नगर के कई क्षेत्रों का निरीक्षण किया और कानून व्यवस्था बनाई। माहौल शांतिपूर्ण रहा। कोई अप्रिय घटना घटित नहीं हुई।