रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) प्रथम राजस्थान राज्य अन्तर्जिला सिविल सेवा टेनिस प्रतियोगिता 2018-19 तथा द्वितीय राजस्थान राज्य अन्तर्जिला सिविल सेवा बैडमिन्टन प्रतियोगिता 2018-19 का सोमवार को जिला क्लब चित्तौड़गढ़ में जिला कलेक्टर इन्द्रजीत सिंह के मुख्य आतिथ्य व जिला पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार चौधरी की अध्यक्षता में समापन हुआ।

जिला कलेक्टर इन्द्रजीत सिंह ने कहा कि इस तरह की प्रतियोगिता का आयोजन करने का अवसर हर जिले को मिलता है। उन्होंने कहा कि जिले में तीन दिवसीय सिविल सेवा बेडमिन्ट एवं लोन टेनिस प्रतियोताओं का सफल आयोजन किया गया, जिसमें खिलाड़ियों ने आत्मीयता से भाग लिया एवं खेल को खेल की भावना से खेला। उन्होंने जो टीमे विजय हुई उन्हें बधाई तथा हारने वाली टीम के लिए कहा कि वे आगामी आने वाले खेेलों में अच्छा प्रदर्शन करते हुए जीत के लिए प्रयास करें।
जिला पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार चौधरी ने खेल के सफल आयोजन के लिए टीम को बधाई दी तथा खिलाड़ियों को इस आयोजन में भाग लेकर सफल बनाने के लिए बधाई दी। उन्होंने खिलाड़ियों से कहा कि खेल जीतने के लिए खेले पर उनमें खेल की भावना होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि खिलाड़ी हार को जज्बे के साथ स्वीकार कर पुनः जीतने का प्रयास करें। उन्होंने कहा कि शरीर को स्वस्थ्य रखने के लिए खेल बहुत जरुरी है।

जिला कलेक्टर, जिला पुलिस अधीक्षक एवं अतिथियों द्वारा लोन टेनिस में पुरुष वर्ग में जयपुर के प्रथम रहने तथा चित्तौड़गढ़ के द्वितीय, महिला वर्ग में चित्तौड़गढ़ के प्रथम रहने पर पुरस्कार एवं प्रमाण-पत्र प्रदान किया। इसी प्रकार बेडमिन्टन प्रतियोगिता में पुरुष वर्ग में बीकानेर के प्रथम तथा जयपुर के द्वितीय रहने एवं महिला वर्ग में जोधपुर के प्रथम एवं बीकानेर टीम के द्वितीय रहने पर पुरस्कार एवं प्रमाण-पत्र प्रदान कर सम्मान किया।

उन्होंने लोन टेनिस एवं बेडमिन्टन में विजेता टीमों को ट्रॉफी प्रदान की। उन्होंने तीन दिवसीय प्रतियोगिता में निर्णायकों एवं सराहनीय कार्य करने वालों को प्रमाण-पत्र देकर सम्मानित किया। इसके पश्चात् जिला कलेक्टर ने प्रतियोगिता के समापन की घोषणा की एवं प्रतियोगिता का ध्वज मालती चौहान खेल अधिकारी शासन सचिवालय, जयपुर को दिया।

उपखण्ड अधिकारी सुरेश कुमार खटीक ने तीन दिवसीय सिविल सेवा बेडमिन्टन एवं लोन टेनिस प्रतियोगिताओं के सफल आयोजन के लिए किये गए सहयोग के लिए सभी खिलाड़ियों एवं अतिथियों आभार व्यक्त किया। मुख्य निर्णायक सुरेश चन्द्र शर्मा ने प्रतियोगिता का प्रगति प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में प्रशिक्षु आई.ए.एस. सुशील कुमार, जिला रसद अधिकारी ज्ञानमल खटीक, खेल अधिकारी सुश्री मालती चौहान शासन सचिवालय जयपुर सहित अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद थे।