कांग्रेस के दावेदारो मे बनी असमंजस्य की स्थिति
छबड़ा:- आगामी होने जा रहे विधानसभा चुनाव मे छबड़ा-छीपाबड़ौद विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस से सेवानिवृत अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक द्वारा प्रबल दावेदारी जताने से कांग्रेस मे अब खलबली मच गई हैं। इस विधानसभा क्षेत्र से तीन दावेदार टिकट की दौड़ मे चल रहे हैं। लेकिन अब देखना यह हैं कि कांग्रेस संगठन किस मजबूत दावेदार को इस क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याक्षी बनाता हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार वर्ष 1980 मे राजस्थान पुलिस सेवा मे चयन हुए भूपेंद्र सिंह चूड़ावत मूलतः भीलवाड़ा जिले के पीलोनी के निवासी हैं जिन्होने कोटा मे पुलिस उपाधीक्षक एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के पद पर लगभग सत्रह वर्ष तक रहकर जनता के दर्द दूर किए। तथा बारां मे भी सात माह तक भ्रष्टाचार विभाग मे उपाधीक्षक के पद पर कार्यरत रहे। इसके अलावा अन्य स्थानो पर भी वे भ्रष्टाचार विभाग मे पुलिस उप अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के पद पर रहकर उन्होने लगभग उनके कार्यकाल मे 200 प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई की थी। चूड़ावत छबड़ा मे गत एक मार्च 2004 से 19 जुलाई 2006 तक तथा 14 जुलाई 2008 से 2 मार्च 2009 तक पुलिस उप अधीक्षक के पद पर रहकर पीड़ित लोगो की समस्याओं का तत्काल निराकरण कर उन्हे लाभांवित किया था। वे अभी वर्तमान मे आरएसी कोटा मे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के पद पर कार्यरत थे जिन्होने स्वैच्छा से राजस्थान सेवा छोड़कर राजनीति मे आने का मानस बनाया। अभी उनकी राजकीय सेवाओं में लगभग पंद्रह माह शेष थे। किंतु 31 अगस्त को उन्होने स्वैच्छा से सेवानिवृति ले ली हैं। चूड़ावत ने सोमवार को छबड़ा मे आयोजित हुई पत्रकार वार्ता मे बताया कि वे आगामी होने जा रहे विधानसभा चुनाव मे इस विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस से उम्मीदवारी जता रहे हैं। उन्होनें बताया कि छबड़ा की भूमि को वे देव भूमि मानते हैं इस क्षेत्र पर अभी तक भाजपा का कब्जा बरकरार चला आ रहा है। इस कारण क्षेत्र की जनता की समस्याओं का निराकरण यहां के प्रतिनिधी द्वारा नही करने और ऐसे लोगो की मदद के लिए वे राजनीतिक मे उतरे है। उनका उद्देश्य जनता की सेवा करना और दुःख के क्षण मे हरदम साथ खड़े रहना एवं क्षेत्र के बेरोजगार युवको को रोजगार दिलवाना, क्षेत्र मे ज्यादा से ज्यादा विकास करवाना तथा भूमिपुत्रो को उनकी फसल का समय-समय पर उचित मुआवजा दिलवाना हैं। उन्होने भाजपा सरकार पर किसानो का शोषण करने का आरोप लगाते हुए कहा कि किसानो की फसलो का उचित मूल्य नही मिलने के कारण प्रदेश मे किसानो द्वारा आत्महत्याएं की गई हैं उसके लिए भाजपा सरकार को उन्होने दोषी ठहराया हैं। उन्होने दावा किया कि आगामी चुनावो मे प्रदेश मे कांग्रेस की सरकार बनेगी। सेवानिवृत एएसपी चूड़ावत के चुनावी मैदान मे आने से कांग्रेस मे खलबची मच गई हैं, उन्होने मंगलवार को अपने समर्थको के साथ छबड़ा कस्बे के मुख्य मार्गो से गुजर सघन जनसंपर्क किया। इस अवसर पर उनका जगह-जगह भव्य स्वागत हुआ। अभी तक इस विधानसभा क्षेत्र से पूर्व विधायक करणसिंह राठौड़, पूर्व पालिकाध्यक्ष नाथूलाल अग्रवाल ने चुनावी दावेदारी जताकर गांव-गांव, ढ़ाणी-ढ़ाणी पहुंचकर ग्रामीणों से जनसंपर्क मे जुटे हुए है। अब चूड़ावत द्वारा चुनावी शंखनाद करने से कांग्रेस के दावेदारो मे असमंजस्य की स्थिति बन गई हैं। अब देखना यह हैं कि कांग्रेस संगठन किस मजबूत दावेदार को इस क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याक्षी बनाता हैं।