रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) नंद के घर आनंद भयौ, जय कन्हैयालाल की, हाथी घोड़ा पालकी, जय कन्हैयालाल की के जयकारों के साथ जन्माष्टमी पर मंदिरों में भगवान श्री कृष्ण की भक्ति उमड़ पड़ी। मंदिरों में बड़े आयोजन हुए।
चारभुजा झालरबावड़ी में लगने वाले तीन दिवसीय श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मेले का सोमवार को ग्राम पंचायत झालरबावड़ी सरपंच श्रीमती चंद्रज्योति चुंडावत द्वारा पूजा-अर्चना कर फीता काटकर शुभारंभ किया गया। चारभुजा झालरबावड़ी में मेले का आयोजन हुआ, जिसमें हजारों लोगों ने भाग लिया।

मेले में दूर-दूर से दुकानदारों ने दुकाने लगा रखी थी। भगवान श्री चारभुजा नाथ का सोमवार को विशेष श्रृंगार किया गया था। मेवाड, हाडौती एंव मालवा में विख्यात रावतभाटा के प्रसिद्ध चारभुजा मंदिर में भगवान श्री चारभुजा नाथ का सोने के आभूषणों से श्रृंगार किया गया। पूजारी ने बताया कि भगवान की बंशी से लेकर मूंछ भी सोने की है। साथ में चांदी के छत्र, कवच से भगवान को सजाया गया है। जन्माष्टमी पर्व को लेकर मंदिर में आकर्षक विद्युत सज्जा की गई है।
रावतभाटा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भवानीशंकर मीणा, पुलिस उपाधीक्षक दिनेश कुमार यादव व थानाधिकारी चौथमल वर्मा इस दौरान मेले की व्यवस्था पर नजर रखे हुए थे। मेले के लिए अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है। दर्शनों का आनन्द दर्शनार्थी ने भी लिए तथा सुरक्षा के लिए कई जवानों को तैनात किए गया। मेले में जगह-जगह पुलिसकर्मी, होमगार्ड तैनात किए गए थे। पंचायत ने नियंत्रण कक्ष बना रखा था। मेले में पुलिस की चाक चौबंद व्यवस्था रही। तथा समाचार लिखे जाने तक मेले में किसी भी प्रकार की चैन स्नेचिंग व अन्य घटना नहीं घटी। मेला शांतिपूर्ण तरीके से चल रहा है। मेले में कार्यक्रम के दौरान ग्राम विकास अधिकारी महेश कुमार शर्मा, नपा उपाध्यक्ष मंजुलता जग्गम, उपसरपंच मनीषा व्यास, वार्ड पंच अजीत मराठा, भंवर सिंह चुंडावत, भाजपा प्रवक्ता पुरषोत्तम व्यास, किशोर चौधरी, पार्षद पद्मा सोनी, राजेंद्र दशौरा, भुवनेश नागर सहित कई कार्यकर्ता, पदाधिकारी व गणमान्य नागरिक मौजुद थे।