कोटा- थर्मल कालोनी में वर्षों से कार्यरत ठेका श्रमिकों ने आज थर्मल ठेकेदार वर्कर्स यूनियन कार्यालय पर पहुँचकर अध्यक्ष आज़ाद शेरवानी को लिखित शिकायत पत्र सौंपकर अपनी व्यथा सुनाई और न्याय दिलवाने की मांग की
श्रमिकों का कहना हे कि वो पिछले 12 -15 वर्षों से थर्मल कालोनी में सिविल कार्य कर रहे है इस दौरान कई ठेकेदार बदले परन्तु वे लगातार कार्य करते रहे उनका कार्य हमेशा चलता है परन्तु इस बार नये ठेकेदार द्बारा उन्हें लगातार परेशान किया जा रहा है अधिकारी भी उनका साथ नहीं दे रहे हें ना ही समय पर वेतन दिया जाता है ना ही PF /ESI जमा करने का कोई प्रूफ दिया जा रहा है पिछले 15 दिन से वे रोज़ घर से आते है परन्तु उन्हें काम नहीं दिया जा रहा है रोज़ थर्मल कालोनी में अपना समय व्यतीत कर शाम को घर लौट जाते है जब इस सन्दर्भ में यूनियन ने ठेकेदार से बात की तो ठेकेदार ने कहा कि मेने इन्हे काम से नहीं हटाया है सरकार ने रेती पर रोक लगा रखी हे मेरे पास रेती नहीं हे रेती आने पर कार्य करवाया जायेगा वहीं इस सन्दर्भ में मजदूरों का कहना है कि ठेकेदार बहाना बना रहा हे उसके पास रेती हे जो हमारे द्वारा उसने एक स्टोर में रखवाई है जिसे हम सिद्द कर सकते हें श्रमिकों का यहाँ तक कहना हे कि इस सन्दर्भ में नये मुख्य अभियन्ता महोदय से मिलने गये तो उन्होने भी हमें मिलने से मना कर दिया
थर्मल ठेकेदार वर्कर्स यूनियन ने इस सन्दर्भ में सम्बन्धित XEN अशोक चालाना से बात की तो उन्होने एक दो दिन में काम पर रखने की बात कि वहीं दूसरी और ठेकेदार की और से रेती का बहाना करके गुमराह किया जा रहा है यूनियन ने श्रमिकों के पत्र के आधार पर मुख्य अभियन्ता थर्मल को पत्र देकर श्रमिकों की समस्या के निवारण की मांग की है इन ग़रीब मजदूरों को शीघ्र काम मिलना चाहिए ज़बरन छुट्टी करवाने से उन्हें आर्थिक परेशानी हो रही है उनके साथ उनके परिवार है जिनके प्रति मानवता दिखाते हुए जो भी कारण हे उसका निवारण हो और मुख्य नियोक्ता होने के नाते वर्षों से कार्यरत श्रमिकों का रोज़गार सुरक्षित करवाने की जिम्मेदारी थर्मल प्रशासन की हे इसलिए इन श्रमिकों को रोज़गार मिले और ज़बरन बेठाये गये कार्यदिवसों का भुगतान ठेकेदार से करवाया जाये ।