रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ रावतभाटा द्वारा रावतभाटा में पहली बार आयोजित तांडव 2018 कार्यक्रम में युवाओं में भारी जोश व उत्साह का माहौल देखने को मिला।
रावतभाटा महाविद्यालय विद्यार्थी प्रमुख गोपाल शर्मा पूर्बिया ने जानकारी देते हुए बताया कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ रावतभाटा की ओर से रावतभाटा के राणा पूंजा स्टेडियम में बुधवार को तांडव 2018 कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में साहसिक खेल का आयोजन किया गया। जिसमें आग के दरिया को पार करना, बारूदी सुरंग को पार करना, सुरंग में से निकलना, दलदल को पार करना, बर्फीली राह को पार करना, मटकी फोड़ जैसी साहसिक गतिविधियों का प्रदर्शन किया गया। कार्यक्रम में दो दल महाराणा प्रताप व शिवाजी दल बनाए गए, जिसमें महाराणा प्रताप दल का दिलीप शर्मा व शिवाजी दल का गोपाल शर्मा पूर्बिया ने नेतृत्व किया। दलों में 412 प्रतिभागी स्वयंसेवकों ने भाग लिया।

कार्यक्रम के प्रारंभ में गजेंद्र पाल सिंह ने प्रतिभागियों का उत्साहवर्द्धन किया। तत्पश्चात कोटा विभाग प्रचारक जी. आनंद प्रताप ने कहा कि आज हमने तांडव करके महाराणा प्रताप के शौर्य को याद किया है, हमें उनके पदचिन्हों पर चलना चाहिए। उन्होंने कहा कि स्वयंसेवकों के समाने चुनौतियां बहुत हैं और उनसे निपटने के लिए वे पूरी तरह से तैयार हैं। तथा कार्यक्रम में प्रेमचंद अहीर द्वारा काव्यगीत प्रस्तुत किया गया।

तांडव 2018 कार्यक्रम में रावतभाटा सहित खंड के 5 गांवों बोराव, जावदा, श्रीपुरा, बाड़ौलिया व बड़ौदिया के युवाओं ने भाग लिया। कार्यक्रम के दौरान युवा शक्ति में काफी उत्साह और प्रसन्नता नजर आई। इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ रावतभाटा के सहजिला कार्यवाह अशोक अहीर सहित आरएसएस के कई कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों सहित सैंकड़ों की संख्या में गणमान्य नागरिक मौजुद थे।