रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) गत दिनों पूर्व 4 अगस्त को रावतभाटा से करीब 30 किमी दूर राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय गोपालपुरा के कार्यवाहक प्रधानाचार्य शिवचरण मीणा एवं 11वीं कक्षा के छात्र निर्मल माली पुत्र कैलाश माली निवासी रामनगर गांव के बीच हुई घटना के संबंध में गोपालपुरा गांव के समस्त ग्रामवासी सहित विद्यालय के समस्त विद्यार्थी व स्टाफ द्वारा विद्यालय के कार्यवाहक प्रधानाचार्य शिवचरण मीणा के समर्थन में आकर कार्यवाहक प्रधानाचार्य पर लगाए गए समस्त आरोपों को निराधार एवं झूठा बताया गया। ज्ञात रहे कि गत 4 अगस्त को कार्यवाहक प्रधानाचार्य शिवचरण मीणा ने कक्षा में छात्र निर्मल माली पुत्र कैलाश माली निवासी रामनगर गांव को अनुशासन में आने को कहा। इस मामूली सी बात पर 9 अगस्त को छात्र के परिजनों के साथ कई शरारती तत्व के लोगों ने विद्यालय में प्रदर्शन एवं हंगामा किया। जिस पर पुलिस को सूचित करने पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामला शांत कराया गया, लेकिन 16 अगस्त को पुनः कुछ शरारती तत्वों व परिजन द्वारा विद्यालय का वातावरण खराब करने का प्रयास किया गया, लेकिन पुलिस को सूचित करते ही वे लोग विद्यालय से भाग गए।
घटना के संबंध में गोपालपुरा गांव के समस्त ग्रामवासियों द्वारा कार्यवाहक प्रधानाचार्य शिवचरण मीणा के खिलाफ की गई झूठी शिकायत के संबंध में स्पष्टीकरण के संबंध में जिला कलेक्टर को हस्ताक्षरयुक्त ज्ञापन भेजा गया। ज्ञापन में बताया कि राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय गोपालपुरा के कार्यवाहक प्रधानाचार्य शिवचरण मीणा की कुछ लोगों द्वारा की गई शिकायत झूठी एवं निराधार है। कुछ समाजकंटकों द्वारा विद्यालय वातावरण को बिगाड़ने का प्रयास किया जा रहा है, जबकि प्रधानाचार्य शिवचरण मीणा द्वारा किया गया कार्य शैक्षणिक वातावरण एवं अनुशासन के अनुकूल एवं सराहनीय था। गुरू-शिष्यों के बीच मधुर संबंधों को बदनाम किया जा रहा है, जो बिल्कुल गलत है। जिसके चलते शनिवार को ग्रामवासियों द्वारा यह निर्णय लिया गया कि आज के बाद कार्यवाहक प्रधानाचार्य शिवचरण मीना के खिलाफ किसी भी प्रकार का अशोभनीय व्यवहार किया जाता है, तो उन असामाजिक तत्वों के खिलाफ उचित कार्यवाही मंे ग्रामवासी सहभागी रहेंगे। तथा पूर्व में कुछ व्यक्तियों द्वारा की गई झुठी शिकायतों को निरस्त माना जावें। ग्रामवासियों ने गांव व विद्यालय का नाम कुछ लोगो द्वारा ख़राब किया जाने की बात कही। साथ ही आगे से अगर कोई विद्यालय की शांतिभंग की कोशिश करता है तो उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करने की मांग की। ज्ञापन का विद्यालय के समस्त स्टाफ व विद्यार्थियों ने भी समर्थन किया।

वहीं इस संबंध में ग्रामवासियों एवं विद्यालय स्टाफ द्वारा एक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में निगरानी समिति का गठन किया गया। जिसमे गांव के सक्रिय एवं जागरूक लोगो को सदस्य बनाया गया। इस मौके पर ग्रामीण युवा व पंडित दीनदयाल युवा मंच अध्यक्ष मनोज मेवाड़ा, भाजपा मंडल उपाध्यक्ष भंवरलाल धाकड, कैलाश पूरी, राज योगी, अशोक मेवाड़ा, विद्यालय विकास समिति अध्यक्ष कैलाश धाकड, वार्डपंच प्रकाश धाकड, कैलाश धाकड, जगदीश धाकड, हेमराज मेवाड़ा, शंभूलाल मेघवाल, संजय मेघवाल, हिम्मत सिंह, करण नाथ शिवपुरी, बाबूपुरी, राजू बलाई, कालू मेघवाल, अशोक मेघवाल, शम्भू खाती, ओमप्रकाश धाकड, छितरमल धाकड, पिरु पूरी, ललित पूरी, मांगीलाल धाकड, ज्ञानमल मेघवाल, नानूराम मेघवाल सहित कई ग्रामवासी व विद्यार्थी उपस्थित रहे।