रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) रावतभाटा-गांधीसागर मार्ग के तमलाव गांव के समीप रावतभाटा से करीब 16 किमी दूर 15 अगस्त को सांय कचौड़िया नाले में डूबे दो युवकों में से दूसरे युवक की भी लगभग शुक्रवार को 39 घंटे बाद घटनास्थल से करीब 7 किमी दूर नाले के अंतिम छोर व चंबल नदी के किनारे पर लाश मिल गई।
रावतभाटा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भवानीशंकर मीणा व रावतभाटा थानाधिकारी चौथमल वर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि रावतभाटा से करीब 16 किमी दूर तमलाव गांव के समीप 15 अगस्त को कचौड़िया नाले में साथी युवक को बचाने के प्रयास में डूबे विजय सिंह राठौड़ पुत्र वीरेंद्र सिंह निवासी चर्च बस्ती वार्ड नं. 14 रावतभाटा की गुरूवार को दिनभर लाश नहीं मिली। जंहा अंधेरा होने पर गुरूवार को रेस्क्यू रोक दिया गया। तत्पश्चात शुक्रवार अलसुबह पुनः रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया। पुलिस प्रशासन व सिविल डिफेंस के गोताखोरों द्वारा लगातार विजय सिंह राठौड़ की लाश की तलाश की जा रही थी। इसी दौरान घटनास्थल से लगभग 7 किमी दूर नाले के अंतिम छोर व चंबल नदी के मुहायने पर करीब 39 घंटे बाद शुक्रवार प्रातः 8 बजे सिविल डिफेंस के स्वयसेवकों को लाश मिली। जिसकी सूचना सिविल डिफेंस के उपनियंत्रक जयसिंह चुंडावत व पुलिस के उच्चाधिकारियों को दी गई। जंहा शव बाहर निकलवा कर पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर राजस्थान परमाणु बिजलीघर के चिकित्सालय के मोर्चरी में रखवाया। तथा विजय सिंह राठौड पुत्र वीरेंद्र सिंह निवासी चर्च बस्ती वार्ड नं. 14 रावतभाटा एवं गुरूवार को मिला विजय कुमार पुत्र श्यामलाल उम्र 28 वर्षीय निवासी झारखंड हालमुकाम चारभुजा झालरबावड़ी का शुक्रवार को मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया गया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

उल्लेखनीय है कि रावतभाटा से करीब 16 किमी दूर तमलाव गांव के समीप 15 अगस्त को सांय लगभग 6 बजे कचौड़िया नाले में 7 युवक पिकनिक मनाने गए थे। जंहा तेज बारिश होने से नाले में पानी का बहाव तेज होने के चलते 5 युवक बाहर आ गए, शेष रहे दो युवक विजय कुमार एवं विजय सिंह राठौड़ भी बाहर आ रहे थे कि अचानक विजय कुमार पुत्र श्यामलाल उम्र 28 वर्षीय निवासी झारखंड हालमुकाम चारभुजा झालरबावड़ी असंतुलित होकर नाले गिर गया, और पानी के बहाव के साथ बहने लगा। जिस पर साथी युवक विजय सिंह राठौड़ अपने मित्र को बचाने के प्रयास में पानी में डूब गया। जंहा घटना की सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन द्वारा मोटरबोट, सिविल डिफेंस एवं कोटा से आए गोताखोर की सहायता से लगातार दोनों युवकों की तलाश की जा रही थी। इसी दौरान गुरूवार को विजय कुमार पुत्र श्यामलाल उम्र 28 वर्षीय निवासी झारखंड हालमुकाम चारभुजा झालरबावड़ी का शव घटनास्थल से करीब 4 किमी दूर मिला। वहीं दूसरा साथी विजय सिंह राठौड़ पुत्र वीरेंद्र सिंह निवासी चर्च बस्ती वार्ड नं. 14 रावतभाटा का शव शुक्रवार को प्रातः 8 बजे करीब 39 घंटे बाद घटनास्थल से 7 किमी दूर मिला।