छबड़ा:- विधायक प्रतापसिंह सिंघवी ने कहा कि प्रदेश में आसीन भाजपा सरकार बालिकाओं के विकास के लिए प्रतिबद्ध हैं राज्य सरकार द्वारा महिला सशक्तीकरण पर विशेष जोर दिया जा रहा हैं। यह उद्गार उन्होनें राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में निःशुल्क साइकिल वितरण समारोह में कहे हैं। एवं उन्होनें इस अवसर पर कक्षा 9वीं में प्रवेश लेने वाली 198 छात्राओं को निःशुल्क साईकिले वितरित की।

प्रधानाचार्य नीलम बुनकर ने बताया कि गुरूवार को विद्यालय में आयोजित हुए निःशुल्क साईकिल वितरण समारोह के मुख्य अतिथि क्षेत्रीय विधायक प्रतापसिंह सिंघवी, विशिष्ठ अतिथि पंचायत समिति प्रधान संजू लोधा, नगरपालिकाध्यक्ष पिंकी साहू, पूर्व भाजपा नगर अध्यक्ष कैलाशचंद जैन एवं शंकर सुमन रहे। तथा ब्लॉक प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी दिनेश भार्गव, राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य ओमप्रकाश शर्मा भी समारोह में मौजूद रहे। प्रधानाचार्य बुनकर ने बताया कि इस विद्यालय में एक हजार एक सौं दो छात्राएं हैं जिनमें से कक्षा 9वीं मे प्रवेश लेने वाली एक सौं 98 छात्राओं को निःशुल्क साईकिल वितरण योजना के तहत साइकिले वितरित की गई।

इस कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए विधायक प्रतापसिंह सिंघवी ने कहा कि प्रदेश मे आसीन भाजपा सरकार बालिकाओं के विकास के लिए प्रतिबद्ध हैं तथा बालिकाओं के शिक्षित होने से दो परिवारो का उद्धार होता है। उन्होने कहा कि राज्य सरकार द्वारा महिला सशक्तीकरण पर विशेष जोर दिया जा रहा हैं। महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए राज्य सरकार ने विभिन्न जनकल्याणकारी शुरू कर रखी हैं जिनका लाभ महिलाओं को समय-समय पर मिल रहा हैं। सिंघवी ने कहा कि निःशुल्क साइकिल वितरण एवं विभिन्न तरह की छात्रवृति योजनाओं से छात्राओं का शिक्षा के प्रति आत्मविश्वास बढ़ता जा रहा हैं। एवं उन्होनें छात्राओं से अपील की हैं कि वे साइकिल का लाभ नियमित विद्यालय में आने-जाने और मन लगाकर पढ़ाई करने में करे। तथा इस मौंके पर नगरपालिका अध्यक्ष पिंकी साहू ने कहा कि सरकारी विद्यालयो में गरीब छात्राएं भी शिक्षा लेने के लिए दूर-दराज एवं गांवो से आती हैं तथा कभी-कभार लम्बी दूरी तय करने के कारण कई छात्राएं तो परीक्षा के समय में भी समय पर नही पहुंच पाती हैं। इसलिए यह योजना ऐसी छात्राओं के लिए लाभदायक साबित हो रही हैं तथा पहले की अपेक्षा अब गांवो से भी सैंकड़ो छात्राएं सरकारी विद्यालयो में शिक्षा अध्ययन करने के लिए पहुंच रही हैं।