छबड़ा:- छबड़ा उपखंड क्षेत्र के बापचा थानान्तर्गत गांव ढ़ीमरपुरा में दो सगे मासूम बहिन-भाई कि समीप के तालाब में डूबने से मौके पर दर्दनाक मौत हो गई। इस दुःखद घटना को सुनकर पूरे गांव में मातम छा गया।

बापचा पुलिस के अनुसार गांव ढीमरपुरा निवासी साहिल (10) पुत्र जगदीश जाति धोबी व उसकी सगी बहिन आठ वर्षीय रोशनी पुत्री जगदीश जाति धोबी दोनो सगे बहिन-भाई बुधवार तीसरे पहर घर से खेलने के लिए निकले थे कि खेलते-खेलते इसी गांव के समीप पुराने तालाब के निकट पहुंच गए और पानी से लबालब भरे तालाब में गिर गए कुछ समय बाद दोनो मासूमो की मां उनकी तलाश करते-करते समीप के तालाब पर पहुंची तो तालाब के किनारे उनके रखे कपड़े व चप्पलो को देख कर वह दंग रह गए। इसकी सूचना उसने गांव मे जाकर दी ग्रामीणों ने काफी मशक्कत के बाद तालाब मे डूबे दोनो मासूम बहिन भाई को मृत अवस्था में तालाब से बाहर निकाला। इसकी सूचना बापचा पुलिस को मिलने पर वह मौके पर पहुंची और घटनास्थल का जायजा लिया दोनो मृतक सगे बहिन-भाई को छबड़ा के राजकीय चिकित्सालय के मोर्चरी कक्ष मे लाये जहां चिकित्सको दोनो मृतको का पोस्टमार्टम करवाकर शव उनके परिजनो को सौंप दिया। इस मौके पर हल्का पटवारी तथा तहसीलदार राजेंद्र मीना चिकित्सालय पहुंचे जहां मृतको के परिजनों को ढ़ांढस बंधवाकर उन्हे मुख्यमंत्री सहायता कोष से सहायता दिलाने का भरोसा दिलाया। ग्रामीणों ने बताया कि जगदीश धोबी मेहनत, मजदूरी का कार्य करता हैं उसके केवल साहिल (पुत्र), रोशनी (पुत्री) ही थे। वे दोनो ही तालाब मे डूबने से मर चुके हैं अब इनके अलावा उसके एक भी संतान नही हैं। इस घटना को सुनकर पूरे गांव मातम छा गया। विधायक प्रतापसिंह सिंघवी ने इस घटना पर गहरा दुख प्रकट करते हुए बताया कि तालाब में डूबने से हुई दो मासूमो की मृत्यु के परिजनों को शीघ्र ही राज्य सरकार से आर्थिक सहायता दिलाने को उन्हे भरोसा दिलाया।