रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) जिले के प्रभारी सचिव एवं शासन सचिव, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग नवीन महाजन ने जिले में विभिन्न विभागीय कार्यों एवं योजनाओं की जिला स्तरीय अधिकारियों की मंगलवार को जिला कलक्ट्रेट के समिति कक्ष में समीक्षात्मक बैठक ली।
उन्होंने जिला स्तरीय अधिकारियों से राजस्थान फसली ऋण माफी योजना, डीएमएफटी, संपर्क हेल्प लाईन-181, एम.जे.एस.ए. ग्रामीण व शहरी, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण व शहरी, एमडीएम व आदर्श एवं उत्कृष्ट विद्यालय, भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, आदर्श पीएचसी व राजश्री योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, मुख्यमंत्री बजट घोषणा, आपदा प्रबंधन एवं मौसमी बीमारियों के संबंध में जानकारी ली।
प्रभारी सचिव महाजन ने राजस्थान फसल ऋण माफी योजना के संबंध में केन्द्रीय सहकारी बैंक के प्रबंधक से जानकारी ली। जिला कलेक्टर इन्द्रजीत सिंह ने बताया कि जिले में योजना के तहत शिविर आयोजित कर किसानों को ऋण माफी प्रमाण-पत्र वितरित किये गये। उन्होंने डीएमएफटी के तहत चल रहे कार्यों एवं पूर्ण हो चुके कार्यों के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि कार्यों की वित्तिय स्वीकृति जल्द से जल्द जारी कराए।
उन्होंने सीएम हेल्प लाईन पर दर्ज प्रकरणों की विभागवार चर्चा करते हुए पेडिंग प्रकरणों को निस्तारण करने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान के तृतीय फेज के कार्यों के बारे में जानकारी ली, जिस पर अधीक्षण अभियंता वाटरशेड ने बताया कि 3435 कार्य में से 3284 कार्य पूर्ण हो चुके है एवं 2 लाख पौधारोपण का कार्य पूर्ण हो चुका है। उन्होंने अधुरे कार्यों को पूर्ण कराने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान (शहरी) की युआईटी सचिव से जानकारी ली।

प्रभारी सचिव ने स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के तहत बकाया भुगतान के बारे में जानकारी लेते हुए भुगतान के निर्देश दिए। स्वच्छ भारत मिशन शहरी की भी युआईटी सचिव से जानकारी ली। उन्होंने विद्यालयों में अन्नपूर्णा दूग्ध योजना के बारे में जानकारी ली तथा गुणवत्ता की जांच के बारे में निर्देश दिए। उन्होंने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बारे में जानकारी ली तथा इस संबंध में संबंधित अधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
जिला कलेक्टर इंद्रजीत सिंह ने चिकित्सा विभाग को निर्देश देते हुए कहा कि वे मौसमी बीमारियों के संबंध में सर्तक रहे। उन्होंने सभी विभागों को आपदा प्रबंधन की तैयारी रखने के निर्देश दिए। उन्होंने प्रभारी सचिव को आश्वस्त किया कि आपके द्वारा दिए गए निर्देशों की पालना की जायेगी।
बैठक में अतिरिक्त कलेक्टर (प्रशासन) दीपेन्द्र सिंह राठौड़, प्रशिक्षु आई.ए.एस. सुशील कुमार, युआईटी सचिव सी.डी. चारण, जिला रसद अधिकारी ज्ञानमल खटीक सहित नगर परिषद, शिक्षा, चिकित्सा, विद्युत, सार्वजनिक निर्माण विभाग, जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी, कृषि सहित समस्त विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।