कोटा– “रुके सबके कदम, देखो रमपमपम
अजी ऐसे गीत गाया करो।
कभी खुशी कभी गम
हंसो औऱ हंसाया करो।”

रविवार को अपना घर आश्रम कोटा मे रह रहे मानसिक विमंदित, बीमार, लाचार प्रभु स्वरूप आवासियों के मनोरंजन के लिए म्ययूजिकल प्रोग्राम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में वंदना गुप्ता एवं उनकी संस्था कोशिश के स्टूडेंट्स,कॉलेज छात्र।रितिकेश एवं उनके मित्रों ने अपनी प्रस्तुति दी।सुरीले बोलों पर आश्रम के महिला एवं पुरूष आवासी अपने गमों को भूल कर बच्चों के साथ खूब नाचे झूमे। कोशिश संस्था के बच्चों ने भी अपनी प्यारी आवाज में गीत सुनाए ।इस अवसर पर वाइब्रेंट एज डिवीजन कोटा के हेड नीलेश गुप्ता भी उपस्थिति थे।उपस्थित सभी मेहमान, बच्चों से मिलकर आश्रम के आवासियों की खुशी देखते ही बन रही थी एवं मधुर संगीत तो अपना काम कर ही रहा था।आश्रम के आवासियों ने भी माइक मे गाने सुनाए ।इस कार्यक्रम के सभी सहयोगियों का अपना घर परिवार की तरफ से बहुत बहुत आभार।