कोटा– राष्ट्रीय फुले ब्रिगेड संस्था द्वारा राष्ट्रीय माली (सैनी) महासम्मेलन का आयोजन दिप स्मृति, आडिटोरियम, मानसरोवर, जयपुर में किया गया । जिसमे लगभग झारखंड , बिहार, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान समेत 12 राज्य के प्रतिनिधि उपस्थित रहे । इस भव्य समारोह में समाज सेवी, चम्बल शुद्दीकरण मुहिम चलाने वाले , जनहित से जुड़ी समस्याओं के लिए हमेशा संघर्षरत हाडौती माली समाज के प्रदेश प्रवक्ता व राष्ट्रीय प्रताप फाउंडेशन के अध्यक्ष राजेंद्र सुमन को विभिन्न प्रान्त से आये हुए प्रतिनिधियों के समक्ष फुले ब्रिगेड के राष्ट्रीय संयोजक सीपी सैनी द्वारा यूथ आइकॉन अवार्ड प्रदान किया गया । इस अवसर पर राजेन्द्र सुमन ने कहा कि हमारे समाज के ही नही बल्कि जन- जन के आदर्श शिक्षा की क्रांति के अग्रदूत महात्मा ज्योतिबा फुले के जीवन का अनुसरण करते हुए हमें स्वयम सेवा का व्रत लेते हुए समाज के प्रत्येक वर्ग को ये साथ लेकर समाज के प्रत्येक तबके को सामाजिक अधिकारों के प्रति सझग बनाना होगा । सदियों हमारा माली समाज वास्तव में सामाजिक समरसता कायम करने वाला समाज रहा है है । हमने आज तक दूसरे पर कभी अपने अधिकार नही थोपे बल्कि दूसरे के अधिकारों की लड़ाई को लड़ा है इस बात का उदाहरण है महात्मा ज्योतिबा फुले उनके शिष्य को भारत सरकार ने भारत रत्न से नवाजा पर सभी सरकारों ने महात्मा ज्योतिबा फुले कि उपेक्षा की है आज तक उन्हें भारत रत्न अवार्ड नही मिला जबकि शिक्षा की क्रांति के अग्रदूत रहे है । आज जो हमे थोड़े बहुत सामाजिक अधिकार मिले है इसके पीछे महात्मा ज्योतिबा फुले का संघर्ष, किया है इसी भारतीय समाज की कुछ शीर्ष जातियों का अपमान सहा है । और एक मिशाल कायम की है और हमे सम्मान से जीने का अधिकार दिया है । आज माली समाज शिक्षित भी हो चुका है और अपने अधिकारों व राष्ट्र के प्रति सजग भी हो चुका है ।इस अवसर पर राष्ट्रीय फुले ब्रिगेड द्वारा यूथ आइकॉन अवार्ड प्रदान करने पर सभी प्रान्त से आये हुए अतिथियों का आभार प्रकट किया ।

राजेन्द्र सुमन
सामाजिक कार्यकर्ता