कोटा– भारत विकास परिषद् -रानी लक्ष्मी बाई शाखा द्वारा सांस्कृतिक सप्ताह के तहत “मेरा गॉव मेरा अभियान” कार्यक्रम करवाया गया। भारत एक कृषि प्रधान देश है, इसके कण कण में गांव की मिट्टी की ख़ुशबू समाहित है ।शाखा की अध्यक्ष सारिका मित्तल ने बताया की कार्यक्रम के माध्यम से भविष्य की पीढ़ी को समझाने का प्रयास किया गया की हमारी संस्कृति और जीवन जीने की कड़ी गांवों की और किसान की ही धरोहर है। वहां खेतों में किसान भाई किस तरह मेहनत करते हैं और सम्पूर्ण राष्ट्रीय का संचालन करने में कैसे अपना योगदान करते है और वह सब कितना सादा जीवन जीते है , शहर की चकाचौंध का असर गांव मे बिलकुल दिखाई नहीं देता । शाखा के सदस्यों ने ग्रामीण क्षेत्रों में पौधारोपण भी किया।गौ माता की सेवा के सुखद पल शाखा के सदस्यों ने गौशाला मे बिताये और बच्चों को पशुओं के प्रति सदा दया भाव रखने चाहिये एक कहानी के माध्यम से समझाया गया।गांव के प्रति प्रेम भाव किसान भाईयों के लिये आदर और प्रकृति के प्रति प्रेम जागृति लाना शाखा मूल उद्देश्य था।