कोटा-आज से तीन वर्ष पूर्व युवाओं को शिलोंग में संबोधित करते हुए इस देश के कर्मठ, युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत, साइंटिस्ट और आम इंसान के राष्ट्रपति श्री डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम का निधन हो गया था उन्ही की पुण्यतिथि के अवसर पर यूनी कल्चर ट्रस्ट ऑफ इंडिया एवं सोसाइटी हैज ईव इंटरनेशनल ट्रस्ट के द्वारा कर्णेश्वर महादेव मंदिर के रास्ते पर कल्पवृक्ष व 86 पौधे लगाये गए। कार्यक्रम संयोजक और ट्रस्टी गौरव भटनागर ने बताया की प्रतिवर्ष संस्था द्वारा 1 कल्पवृक्ष और अन्य वृक्ष कलाम जी की जीवित आयु के अनुरूप लगाये जाते है इसलिए आज 86 पौधे लगाये गए क्योंकि यदि आज कलाम जी जीवित रहते तो आप 86 वर्ष के होते। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राज्य मंत्री राजस्थान हज कमिटी चैयरमैन व अध्यक्ष दरगाह कमिटी दरगाह ख्वाजा साहब अजमेर (अल्प संख्यक मामलात मंत्रालय भारत सरकार) अमीन पठान एवं विशिष्ठ अतिथि कांग्रेस प्रदेश महासचिव एवं गांधी जीवन दर्शन समिति समन्वयक पंकज मेहता रहे। मुख्य अतिथि अमीन पठान ने कहा की कलाम साहब युवा दिलो की धड़कन है उनका जीवन अनुकरणीय व पूजनीय है। यदि देश के युवा उनके कदमों पर चले तो इस देश सूरत में निश्चित रूप से परिवर्तन आएगा । विशिष्ठ अतिथि पंकज मेहता ने कहा की कलाम जी सांप्रदायिक सद्भावना, समरसत्ता और राष्ट्रीय एकता की मिसाल है उन्होंने अपने जीवन में सदैव राष्ट्रहित में कार्य किये। उनकी प्रेरणात्मक पंक्तियाँ और भाषणों से जीवन में नई उर्जा का संचार होता है कलाम साहब इस देश के भविष्य दृष्टा थे उनकी लिखी पुस्तकें उनके सपनों के भारत का दर्शन कराती है प्रभारी निधि प्रजापति ने कहा की युवाओं के लिए कलाम साहब आज भी जीवित है इसीलिए उनके नाम से कलाम वाटिका कर्णेश्वर वन क्षेत्र में विकसित की जाएगी जिसकी शुरुआत आज के पौधारोपण हो गई है इस अवसर पर पौध पोषण में डॉक्टरेट डॉ. राजेंद्र कुमार चौधरी, वीमेन वेलफेयर आर्गेनाइजेशन ऑफ वर्ल्ड की ट्रस्टी नीतू मेहता भटनागर, जिला अध्यक्ष सुमन महेश्वरी, शोभा कँवर, अध्यक्ष जवाहर मार्केट भुवनेश बबलानी, इकबाल हुसैन, राकेश पुरस्वानी, आरजू पठान, विपुल दाधीच, हनी सक्सेना, जिला अध्यक्ष भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो कार्यरत शाखा सुरेन्द्र मेघवाल का विशेष योगदान रहा। मुख्य अतिथि अमीन पठान की देखरेख में ही इस क्षेत्र का संरक्षण भी किया जायेगा और सभी पौधों पर ट्री गार्ड भी लगाये जायेंगे।