रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) माध्यमिक शिक्षा विभाग चित्तौड़गढ़ की दो दिवसीय सत्रारंभ वाकपीठ नोडल उच्च माध्यमिक विद्यालय रावतभाटा के तत्वाधान में राजस्थान परमाणु बिजलीघर के न्यू कम्यूनिटी सेंटर हॉल में बुधवार एवं गुरूवार को आयोजित की जा रही है। कार्यक्रम का शुभारंभ राजस्थान परमाणु बिजलीघर के न्यू कम्यूनिटी सेंटर हॉल में बुधवार प्रातः 11 बजे राजस्थान विद्युत परियोजना की निर्माणाधीन इकाई 7 व 8 के परियोजना निदेशक विवेक कुमार जैन, अध्यक्ष राजस्थान परमाणु बिजलीघर एचआर हेड केजी चंद्रशेखरन एवं विशिष्ट अतिथि राजस्थान परमाणु बिजलीघर के पीआरओ महावीर शर्मा एवं जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक हेमंत कुमार द्विवेदी द्वारा मां सरस्वती की प्रतिमा पर दीप प्रज्ज्वलन एवं माल्यार्पण कर किया गया। कार्यक्रम में छात्राओं द्वारा स्वागत गीत तथा रंगारंग नृत्य गीत प्रस्तुत किया।
राजस्थान विद्युत परियोजना की निर्माणाधीन इकाई 7 व 8 के परियोजना निदेशक विवेक कुमार जैन ने शिक्षकों को विद्यार्थियों के प्रति संवेदनशील रहकर कार्य करने की प्रेरणा दी। उन्होंने कहा कि बच्चों को मात्र शिक्षित करना ही नहीं बल्कि संस्कारित करना ही शिक्षा का उद्देश्य है।
जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक हेमंत कुमार द्विवेदी ने कहा कि शिक्षक बालकों को गुणवत्तापूर्ण एवं रुचिकर शिक्षा प्रदान करें ताकि कम समय में छात्रों को शिक्षा का पूरा लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि संस्कारिक शिक्षा से ही देश एंव समाज का उत्थान संभव है। इसके लिए शिक्षकों को सकारात्मक सोच के साथ छात्रों के बीच शिक्षा परोसे ताकि संकारित छात्र राज्य एंव क्षेत्र का नाम रोशन कर सके। समारोह के विशिष्ट अतिथि राजस्थान परमाणु बिजलीघर के पीआरओ महावीर शर्मा ़ ने शिक्षा के क्षेत्र में तेजी से रहे बदलाव को लेकर शिक्षकों को अपनी सकारात्मक सोच के साथ अध्यापन कराने पर बल दिया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे राजस्थान परमाणु बिजलीघर एचआर हेड केजी चंद्रशेखरन ने आज के समय में कंप्यूटर शिक्षा को जरूरी बताया। उन्होंने कम्पयूटरीकृत शिक्षा पर बल देते हुए प्रत्येक शिक्षक को इस वैज्ञानिक यग में कम्पयूटर के ज्ञान को सर्वाधिक महत्व देने की बात कही। वाकपीठ अध्यक्ष डी.के. शर्मा व अशोक कुमार जैन ने दो दिवसीय वाकपीठ से होने वाले शिक्षा के क्षेत्र में निखार लाने की बात कही। वाकपीठ सचिव ने राज्य एवं केंद्र सरकार की योजना विद्यार्थी हितों के प्रति सजग रहकर विद्यालय के प्रत्येक प्रात्र व्यक्तियों को लाभ पहुंचाने की बता कहीं। तथा संस्था प्रधानों के दायित्व एंव सरकारी कार्यों का निवर्हन सामजंस्यपूर्ण आपसी मेल मिलाप से करने को लेकर वार्ता पेश की।
राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय रावतभाटा के प्रधानाचार्य डी.के. शर्मा, सुनील कुमार सालवी ने नामांकन वृद्धि के लिए शिक्षकों द्वारा किए जाने वाले प्रयासों के बारे में जानकारी दी। उन्होने शैक्षिक उन्नयन एंव शाला दर्पण कार्य को लेकर संस्था प्रधान की जिम्मेदारिंयो से अवगत कराया। तथा सतत एंव व्यापक मूल्याकंन प्रतिदिन संस्था प्रधानों को प्रत्येक कक्षाओं का करने के लिए प्रेरित किया, जिससे शिक्षा के क्षेत्र में निखार सके। दो दिवसीय सत्रारंभ वाकपीठ में जिलेभर के करीब 400 संभागियों ने भाग लिया। दो दिवसीय वाकपीठ का समापन समारोह गुरूवार को होगा।