भरतपुर– राजस्थान के भरतपुर जिले में दो पक्षों में अचानक किसी बात को लेकर फायरिंग हो गई। फायरिंग की घटना भरतपुर के नदबई क्षेत्र के गांव हंतरा की पुलिया की बताइ जा रही है जिसमें 5 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को उपचार के लिए जिला आर्मी में भर्ती कराया गया। जहां से तीन की हालत गंभीर होने पर उन्हें बेहतर उपचार के लिए जयपुर रेफर कर दिया गया।

घटना की सूचना पर एडिशनल SP सुरेश खींची एडिशनल एडीएफ प्रकाश कुमार शर्मा ग्रामीण सिंह Ips धर्मेंद्र सिंह और मथुरा गेट थाना अधिकारी राजेश पाठक सहित भारी पुलिस बल आरबीएम में पहुंचा।

विवाद के चलते भिड़े सरपंच-उपसरपंच

बताया गया है कि अंतरा निवासी दिनेश गांव का सरपंच और दूसरे पक्ष का बृजेश गांव का उपसरपंच है। काफी लंबे समय से दोनों पक्षों में विवाद चल रहा था। इसके चलते दोनों ही पक्षों के परिवारीजनों में बनती नहीं थी और करीब 1 साल पूर्व दोनों के बीच मारपीट और लड़ाई झगड़े का केस भरतपुर न्यायालय में विचाराधीन है।

जानकारी के मुताबिक उपसरपंच पक्ष केस की तारीख के लिए भरतपुर आ रहा था। लेकिन सरपंच पक्ष के लोग पहले से ही पुलिया के पास अब बने अपने मंदिर पर घात लगाए बैठे थे और मंदिर की पुलिया पर आते ही बृजेश पक्ष की गाड़ी के सामने अपनी गाड़ी लगा दी और फायरिंग शुरू कर दी। अपने बचाव के लिए बृजेश पक्ष गाड़ी से बाहर निकला और दोनों के बीच मारपीट भी हुई।

फायरिंग की घटना में श्याम नगर निवासी वरुण चौधरी पुत्र जगबीर सिंह और दूसरे पक्ष के अंदर निवासी बृजेश पुत्र अनूप कौशलेंद्र पुत्र अनूप सिंह और हरेंद्र पुत्र मोहनलाल को गोली लगी। घटना की सूचना कौशलेंद्र ने 100 नंबर पर पुलिस को दी। इस पर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया जा घटना की सूचना पर पुलिस प्रशासन के कई उच्च अधिकारी सहित भारी पुलिस बल अस्पताल में विवाद बढ़ने की आशंका को देखते हुए पहुंचे।