छबड़ा:- छबड़ा नगरपालिका क्षेत्र में पुरानी अदालत के पीछे दो मंजिला जर्जर पुराना मकान ढहने से आस-पास निवास कर रहे वार्डवासियों मे दहशत का माहौल पैदा हो गया हैं। प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर वहां समीप में निवास कर रहे लोगो के मकान खाली करवा लिए हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पुरानी अदालत व छीपा मंदिर के पीछे एक व्यक्ति का दो मंजिला मकान वर्षो से खाली पड़ हुआ था वह काफी जर्जर व खंडर अवस्था मे था। वार्ड वासियों ने पूर्व में इस समस्या का ज्ञापन प्रशासन को अनेको बार दे चुके थे। क्षेत्र में लगातार रूक-रूक कर चल रही वर्षा से यह जर्जर पुराना दो मंजिला मकान ढ़हने की आशंका को मध्यनजर रखते हुए गुरूवार को जागरूक जनता ने प्रशासन को अवगत कराया। जिसके बाद गुरूवार दोपहर लगभग दो बजे नगरपालिका अधिशाषी अधिकारी ने उक्त खंडर एवं पुराने मकान का अवलोकन किया तथा लगभग दोपहर तीन बजे तहसीलदार ने इसी मकान के पास पहुंचकर मौका स्थिति का जायजा लिया। अधिकारियों ने मौके देखने के कुछ मिनट पश्चात् दोपहर लगभग तीन बजकर 10 मिनट यह खंडर दो मंजिला मकान की दिवारे गिर गई। जिससें आस-पास निवास कर रहे लगभग एक दर्जन परिवार के लोगो मे अफरा-तफरी मच गई। मकान गिरने से आस-पास के मकानो मे बिजली करंट भी फैल गया। जिसकी सूचना मिलने पर पालिका के अधिशासी अधिकारी एवं विद्युत विभाग के कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचे जिन्होनें तत्काल बिजली का सम्बंध विच्छेद कर दिया। वहीं मौके पर पहुंचे अधिशाषी अधिकारी व तहसीलदार ने इस ढहे मकान के आस-पास निवास कर रहे परिवारजनों के मकान खाली करवाकर अन्यत्र स्थान पर उनके ढ़हरने की व्यवस्था कर दी हैं। अगर प्रशासन समय पर पहुंचकर आस-पास के लोगो को वहां से नही हटवाते तो वहां बड़ा हादसा होने की आशंका बन जाती हैं। वर्षा के पानी से अचानक ढहे दो मंजिला मकान के आस-पास निवास कर रहे लोगो ने जिला कलैक्टर से इस क्षतिग्रस्त पूरी दो मंजिला इमारत को गिरवाने तथा वहीं पीछे के तरफ पुराना तहसील भवन की क्षतिग्रस्त दीवार व भवन को तत्काल गिरवाने की मांग की हैं। इस मामले में तहसीलदार राजेन्द्र मीना ने बताया कि खाली पड़ा जर्जर पुराने मकान की बची हुई दीवारों को गिराने का कार्य नगरपालिका द्वारा गुरूवार से ही शुरू कर दिया है तथा जर्जर पड़ा पुराना तहसील भवन की मरम्मत करवाने के लिए उच्च अधिकारियों को पत्र प्रेषित कर दिया हैं।