रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) राजस्थान राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष श्रीमती मनन चतुर्वेदी ने चित्तौड़गढ़ जिले के रावतभाटा उपखंड के बोराव में 7 वर्षीया बालिका की करंट लगने से मृत्यु हो जाने को मामले में प्रसंज्ञान लेकर त्वरित जाँच एवं कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं।
आयोग अध्यक्ष श्रीमती चतुर्वेदी ने चित्तौड़गढ़ जिले के बोराव कस्बे में जिनेन्द्र एज्यूकेशन एकेडमी में पढ़ने गई 7 साल की बालिका अक्षिता के स्कूल गेट पर टीन शेड के साथ लगे पाइप में करंट आने से हुई मौत के मामले को गंभीर बताया है।
उन्होंने इस प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए प्रसंज्ञान लेते हुए संबंधित जिला शिक्षा अधिकारी को त्वरित जाँच कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं और कहा है कि कार्यवाही की तथ्यात्मक रिपोर्ट सप्ताह भर में आयोग कार्यालय को प्रस्तुत करें।
श्रीमती चतुर्वेदी ने यह भी कहा है कि सभी स्कूलों में इस संबंध में गंभीरता से निरीक्षण किया जाए कि करंट आने की स्थिति न हो, बच्चों की सुरक्षा का पूरा-पूरा ध्यान रखा जाए।