रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) पाडाझर का मनमोहक झरना चलना रावतभाटा नगर सहित उपखंड क्षेत्र में मानसून का सबसे खुशनुमा चेहरा व क्षेत्र के नैसर्गिक सौंदर्य का सबसे बडा उदाहरण है। सोमवार को रावतभाटा उपखंड क्षेत्र के ग्रामीण अंचल एवं नगर सहित कई जगहों पर सांय को तेज गडगडाहट व आकाशीय बिजली के साथ झमाझम मुसलाधार तेज बारिश शुरू हुई। जो समाचार लिखे जाने तक जारी थी। जिससे क्षेत्र में चारों ओर हरियाली छा गई है। इसके साथ ही बिजली विभाग की दोपहर से कटौती के चलते क्षेत्रवासी परेशान रहे। तथा राणा प्रताप सागर बांध के केचमेंट में 24 घंटे में 17.10 एमएम व 1 जून से अब तक 200.80 एमएम वर्षा दर्ज की जा चुकी है। तथा चारभुजा झालरबावड़ी मौसम विभाग वैधशाला प्रभारी ज्योति मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि सोमवार को अधिकतम तापमान 38.8 और न्यूनतम तापमान 21.2 डिग्री दर्ज किया गया। क्षेत्र में सोमवार को प्रातः 8 बजे तक 25.6 एमएम वर्षा दर्ज की गई।
रावतभाटा नगर सहित दक्षिणी पूर्व राजस्थान से प्रदेश में दस्तक देने वाले मानसून ने सुकून दिया है। क्षेत्र में अच्छी बारिश के साथ प्रमुख रमणीक स्थल पाडाझर का जलप्रपात चल पड़ा। रावतभाटा नगर सहित उपखंड क्षेत्र में रविवार सांय को झमाझम शुरू हुई। जिसके बाद सोमवार को उमस से लोग खासे बेहाल रहे। लेकिन शाम को शुरू हुई बरसात से मौसम सुहाना हो गया। गर्मी से लोगों को राहत मिली। तेज बारिश से कई नाले उफान पर आ गए। इसके साथ ही जावदा-नीमडी, देवपुर, कंवरपुरा, जवाहरनगर कुंआखेडा क्षेत्र में फल्को, गुंजाली नदी भी उफान पर रही।