रामगंजमंडी -अजयराज सिंह चौहान(पत्रकार)

नही है कोई चारदीवारी कच्चे श्मशान पर ,अभी तक नही हटा मलवा

शहर में मुक्तिधाम की व्यवस्थाए भारत विकास परिषद सम्भालती है। नगर पालिका की और से इन दिनों निर्माण कार्य चल रहा है। इसमे यह पर सभा कक्ष के साथ अन्य निर्माण कार्य करवाये जाने है। मुख्तिधाम पर पहले लोगों के बैठने के लिए चबूतरा और लकड़िया रखने के लिए कमरे बने हुए थे अब पुराने कार्य को तोड़कर नवनिर्माण करवाया जा रहा है। यहां पर पुराने निर्माण को तोड़ने से जो मलवा निकला उसे मुक्तिधाम के समक्ष स्तिथ कच्चे श्मशान में डाला जा रहा है। पिछले दो दिनों में वहा बडी मात्रा में मालवा डाला गया है। शनिवार को यहां कुछ लोगों ने मालवा डालने का विरोध जताया क्योंकि यहाँ नवजात बच्चो के शवों को दफनाया जाता है। उसी के ऊपर मलबा डाले जाने पर स्थानीय लोगो ने नगरपालिका में विरोध भी दर्ज करवाया पर अभी तक मलबे को हटाने की कार्रवाई नही हुई है। उल्लेखनीय है कच्चे शमशान के एक बड़े हिस्से पर एक निजी मैरिज गार्डन ने कब्जा कर रखा है बाकी बच्चे क्षेत्र में भी मलबा डाले जाने से इसकी बुरी तरह दुर्दशा हो रही है।

शिव सेना तहसील प्रमुख दर्शन सिंह सिंधु ने बताया कि
कच्चे शमशान आज से नही नगर में कई सालों पुराना है परन्तु इस कच्चे श्मशान के अभी तक चार दिवारी नही की वही ऐसे नजरअंदाज कर कच्चे श्मशान अतिक्रमण रूपी मलवे के ढेर नजर आ रहे इन ढेरो को अभी तक हटाया नही गया लोगो की धार्मिक आस्था के साथ खिलवाड़ हो रहा है वही ये जो पथर मलवा है कच्चे श्मशान में डाल रखा है व किसी अन्य स्थान पर भी डाला जा सकता परन्तु वही डाला कर मूर्खता कार्य का परिचय दिया हम सभी की मांग है कच्चे श्मशान में पड़े मलवे के ढेरों को हटाया जाए और कच्चे श्मशान की चार दीवार की जाए ।