जमनालाल यादव (पत्रकार)
छबड़ा:- छबड़ा-कुंभराज सड़क मार्ग पर गांव सेमली व मवासा के मध्य जंगल मे स्थित टेकरी के मंदिर पर पूजा-अर्चना करने वाले बुजुर्ग साधु के साथ दुष्कर्म के आरोप मे ढोंगी बाबा को पुलिस ने गिरफ्तार करने मे सफलता हासिल कर ली हैं।

सर्किल इंस्पेक्टर ताराचंद बंशीवाल ने बताया कि छबड़ा-कुंभराज सड़क मार्ग पर गांव सेमली व मवासा के मध्य जंगल मे स्थित टेकरी मंदिर पर रहने वाले साधु हरिराम उर्फ चक्रवर्ती दास (65) जाति कुम्हार निवासी दतेरा थाना पठारी जिला विदिशा मध्यप्रदेश ने थाने मे रिपोर्ट दर्ज कर आरोप लगाया कि वह तीन वर्षो से गांव सेमली व मवासा के मध्य जंगल मे स्थित टेकरी स्थित मंदिर पर पूजा-अर्चना का कार्य करता आ रहा था, वह मंदिर परिसर मे ही रहता चला आ रहा था। इसी मंदिर परिसर मे लगभग दो माह से एक अन्य साधु शिवबाबू उर्फ शिवपुरी (34) पुत्र अशोक गिरी निवासी गांव सुरोली थाना मटोध जिला बाधां यूपी भी आकर रहने लग गया था। गत रविवार की रात्रि को लगभग 8-9 बजे साधु हरिराम उर्फ चक्रवर्ती अपने दिनचर्या के कार्यो को पूरा कर प्रतिदिन की भांति मंदिर परिसर मे स्थित छपरे में तख्ते पर सो रहा था कि अचानक शिवबाबू उर्फ शिवपुरी उसी तख्त पर बैठ गया। जब उसकी आंख खुली तो शिवबाबू ने उसके साथ जबरदस्ती कर उसी तख्ते पर पटक दिया और अमानवीय कृत्य को अंजाम दे ड़ाला। फिर साधु हरिराम उर्फ चक्रवर्ती काफी मशक्क्त के बाद उससे छुटकर गांव की ओर भागा और ग्रामीणों को आपबीती सुनाई। इस प्रकरण पर आरोपी ढ़ोंगी बाबा शिव बाबू उर्फ शिवपुरी के खिलाफ धारा 377 भादस में प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी हैं। पुलिस ने इस मामले का गंभीरता से लेते हुए मौके पर पहुंचकर घटना स्थल का जायजा लिया और आस-पास निवास कर रहे ग्रामीणों से घटना की जानकारी जुटाई। पीड़ित साधु का मेड़िकल मुआयना करवाया गया एवं बुजुर्ग साधू के साथ दुष्कर्म करने के आरोपी ढोंगी बाबा शिवबाबू उर्फ शिवपुरी को गिरफ्तार कर लिया हैं जिसे बुधवार को न्यायालय मे पेश किया जाएगा। सीआई ताराचंद ने जनता से अपील की हैं कि अन्धविश्वास व धार्मिक भावनाओं में बहककर किसी भी प्रकार के ढोगीं बाबा के झासें में नही आवें। अगर जनता को किसी संदिग्ध साधुओं पर शक हैं तो तुरंत पुलिस प्रशासन को सूचना देवें ताकि पुलिस ऐसें ढोंगी बाबाओं का पर्दाफाश कर सके।