जमनालाल यादव (पत्रकार)

छबड़ा- छबड़ा मे चल रही श्रीमद् भागवत कथा के छठे दिन गोस्वामी दर्शन कुमार ने रूकमणी विवाह, इन्द्रभान प्रसंग, युगल गीत, रास भ्रमर गीत सुनाकर श्रृद्धालुआें को भावविभोर कर दिया। इस मौके पर श्रोताओ को गोस्वामी दर्शन कुमार ने गौ सेवा एवं स्वच्छता का संकल्प भी दिलाया

कथा आयोजक संध्या माहेश्वरी एवं गोकुल सोनी ने बताया कि रविवार को पालिका क्षेत्र के अंबेडकर भवन मे चल रही भागवत कथा के छठे दिन भारी संख्या मे श्रृद्धालु उमड़े। श्रीमद् भागवत कथा के दौरान कथावाचक गोस्वामी दर्शन कुमार द्वारा गीत संगीत एवं नृत्य के साथ किए कथा वाचन मे श्रृद्धालु पूरी तरह भाव-विभार हो गए एवं भगवान की भक्ति में लीन होकर नाचने गाने लगे। इस अवसर पर उन्होने स्वछता एवं गौ सेवा की वर्तमान समय में महत्वता आवश्यता बताते हुए कहा कि इस दुनिया में गौ सेवा से बड़ी सेवा ही नही हैं।

इसलिए सड़क पर घूम रही गौ माता का संरक्षण करने का संकल्प लेना चाहिए। साथ स्वच्छता पर भी उन्होने कहा कि गंदगी से बिमारियां उत्पन्न होती इसलिए आस-पास के गंदगी नही होने दे क्योकि गंदगी फैलने से वातावरण दूषित होता है इस लिए अपने घर-आंगन के साथ ही सड़को पर भी साफ-सफाई रखना चाहिए।