प्रेरणा संस्थान एवं मन आरोग्य न्यास तत्वाधान में मनाया अंतर्राष्ट्रीय नशा व मादक पदार्थ निषेध दिवस

कोटा– अंतर्राष्ट्रीय नशा व मादक पदार्थ निषेध दिवस आज 26 जून को मन आरोग्य न्यास एवं प्रेरणा संस्थान के संयुक्त तत्वाधान में सूरजपोल गेट स्थित केंद्र प्रेरणा नशा मुक्ति पुनर्वास केंद्र में मनाया गया ! इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में महाराव भीम सिंह चिकित्सालय के उप अधीक्षक एवं न्यूरो फिजिसियन डॉक्टर कर्णेश गोयल मुख्य अतिथि एवं मनोरोग विषेशज्ञ डॉक्टर वीरेंदर मेवाड़ा विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित हुए तथा प्रेरणा संस्थान के प्रमुख महेश हरितवाल ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि डॉक्टर कर्णेश गोयल ने कहा कि नशे की तेजी से बढ़ती प्रवृति अन्तराष्ट्रीय विकराल समस्या और शांतिपूर्ण समाज के लिए अभिशाप बनती जा रही है । समाज में शराब, गांजा, भांग, अफीम, जर्दा, गुटखा, तम्बाकु और धूम्रपान सहित चरस, स्मैक, कोकिन, ब्राउन शुगर जैसे घातक मादक दवाओं और पदार्थों का उपयोग बढ़ता जा रहा है । इन जहरीले और नशीले पदार्थों के सेवन से व्यक्तिगत शारीरिक, मानसिक और आर्थिक नुक्सान पहुंचने के साथ ही परिवार और समाज भी प्रभावित हो रहे हैं नशे के बढ़ते प्रचलन से सामाजिक वातावरण प्रदूषित होने के कारण अपराध भी बढ़ रहे अतः इसकी रोकथाम हमारा सामाजिक दायित्व है
डॉक्टर वीरेंद्र मेवाड़ा ने कहा कि प्रारम्भ में फैशन या शौक़ के रूप में नशे की शुरुआत लत का रूप बन जाती है , नशे के दुष्प्रभाव बताते हुए बढ़ती हुई नशावृति की रोकथाम हेतु युवाओं में जागरूकता पर जोर दिया तथा कहा दृढ़ इच्छा शक्ति , संयम, संकल्प और सकारात्मक माहौल में व्यस्त रहने से ही नशे की लत आसानी से छोड़ी जा सकती है इस अवसर पर नशे के कुप्रभावों एवं नशा मुक्ति जागरूकता के लिए पोस्टर प्रर्दशनी भी लगाई गयी। नशा मुक्ति शिविर में उपस्थित नशे की लत छोड़ने के इच्छुक व्यक्तियों को निशुल्क परामर्श एवं उपचार सुविधा उपलब्ध करवाई गयी।कार्यक्रम का संचालन मन आरोग्य न्यास के समन्वयक विजय राघव ने किया।

विजय राघव
समन्यवक
मन आरोग्य न्यास
3 क – 62 विज्ञान नगर कोटा