रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) राज्य सरकार के निर्देश पर की जा रही सफाई कर्मचारियों की भर्ती प्रक्रिया के लिए नगर निकाय की ओर से बुधवार को प्रातः चित्तौड़गढ़ जिला मुख्यालय में जिला कलेक्टर सभागार लॉटरी प्रक्रिया संपादित की जाएगी।
नगर पालिका रावतभाटा के अधिशाषी अधिकारी सौरभ जिंदल ने जानकारी देते हुए बताया कि नगर पालिका रावतभाटा में सफाई कर्मचारियों के 128 पदों के लिए प्राप्त हुए 796 आवेदनों की छंटनी प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी है।
नगर निकायों की सफाई कर्मचारियों की भर्ती को पारदर्शी तथा निष्पक्ष तरीके से सम्पादित करवाने के लिए पुख्ता व्यवस्था की गई है। लॉटरी का आयोजन जिला कलेक्टर सभागार में बारी, बारी से अलग अलग नगर निकायों, नगर पालिका के लिए किया जाएगा। चित्तौड़गढ़ जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में गठित समिति की ओर से सफाई कर्मचारियों की भर्ती के लिए लॉटरी निकाली जाएगी।
इसके लिए राज्य सरकार के द्वारा केन्द्रीकृत सॉप्टवेयर बनाया गया है। सॉप्टवेयर पर कार्य करने के लिए एनआईसी को अधिकृत किया गया है। लॉटरी के पश्चात विभिन्न स्थानों पर सूची चस्पा की जाएगी।
लॉटरी का सॉप्टवेयर स्वायत शासन विभाग द्वारा जयपुर मुख्यालय स्तर पर तैयार किया गया है। लॉटरी के लिए लॉटरी समिति का गठन किया गया है। लॉटरी पूर्णतया कम्प्यूटर के माध्यम से की जाएगी। इस प्रक्रिया के लिए प्रत्येक जिले को आईडी और पासवर्ड जारी किए गए है। इनसे लॉगइन करके ही लॉटरी प्रक्रिया अपनायी जा सकती है। यह प्रक्रिया पूरी तरह सें पारदर्शी रहेगी।
सर्वप्रथम नगरीय निकाय में प्राप्त कुल आवेदन पत्रों का एवं वर्गवार प्राप्त आवेदन पत्रों का डिसप्ले किया जाएगा। नगरीय निकाय में कुल रिक्त पदों का एवं वर्तमान में प्रचलित आरक्षण के प्रावधानों के अनुसार कुल रिक्तियों का वर्गवार विभाजन डिसप्ले किया जाएगा। लॉटरी में सर्वप्रथम भूतपूर्व सैनिक, उत्कृष्ट खिलाड़ी एवं विकलांगों की लॉटरी निकाली जाएगी। उक्त अभ्यर्थी अपने मूल संवर्ग के विरूद्ध चयनित होंगे। ऐसी स्थिति में जितने अभ्यर्थी जिस संवर्ग से चयनित होंगे, उतने पद उस संवर्ग में कम हो जाएंगे।
भूतपूर्व सैनिक, उत्कृष्ट खिलाड़ी एवं विकलांगो की लॉटरी के पश्चात् वर्गवार आरक्षित सीटों का पुनः डिसप्ले किया जाना होगा। जिससे यह स्पष्ट हो सकेगा की उक्त कैटेगिरी के अभ्यर्थियों के चयन के पश्चात जिस संवर्ग के लिए अभ्यर्थियों का चयन हुआ है, उस मूल संवर्ग में रिक्त पदों की संख्या में उतनी ही कमी हो चुकी है। तत्पश्चात अनुसूचित जाति वर्ग की परित्यक्ता की लॉटरी निकाली जाएगी, इसके पश्चात अनुसूचित जाति विधवा वर्ग की लॉटरी निकाली जाएगी।
परित्यक्ता के पद रिक्त रहने की स्थिति में विधवा कैटेगिरी से उक्त पदों को भरा जाएगा एवं विधवा वर्ग के पद रिक्त रहने की स्थिति में उक्त पदों को परित्यक्ता कैटेगिरी से भरा जाएगा। परित्यक्ता एवं विधवा के चयन से शेष रहे आवेदन पत्रों को अनुसूचित जाति सामान्य महिला की लॉटरी में सम्मिलित किया जाकर अनुसूचित जाति सामान्य महिला की लॉटरी निकाली जाएगी।
तत्पश्चात अनुसूचित जाति महिला के शेष रहे आवेदन पत्रों (अनुसूचित जाति परित्यक्ता, विधवा एवं अनुसूचित जाति की सामान्य महिला) को अनुसूचित जाति के पुरूष वर्ग के आवेदन पत्रों में शामिल किया जाकर, पुरूष वर्ग की लॉटरी निकाली जाएगी। यह प्रक्रिया अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग के लिए भी की जाएगी।
अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग मेें परित्यक्ता/ विधवा वर्ग की महिलाओं के चयन से शेष रहे आवेदन पत्रों को सामान्य वर्ग की क्रमशः परित्यक्ता एवं विधवा महिलाओं के आवेदन पत्रों में शामिल कर क्रमशः सामान्य वर्ग की परित्यक्ता/विधवा वर्ग की लॉटरी निकाली जाएगी।
अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग की महिलाओं (परित्यक्ता, विधवा एवं सामान्य महिला) के चयन से शेष रहे आवेदन पत्रों को सामान्य वर्ग की महिला के आवेदन पत्रों में शामिल किया जाकर सामान्य वर्ग की महिलाओं की लॉटरी निकाली जाएगी। तथा सामान्य वर्ग की महिला की लॉटरी के शेष रहे आवेदन पत्रों एवं अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग के पुरूष वर्ग में चयन से शेष रहे आवेदन पत्रों को सामान्य वर्ग के पुरूष के आवेदन पत्रों में शामिल किया जाकर वर्ग की लॉटरी निकाली जाएगी।
प्रत्येक केटेगरी की लॉटरी निकाले जाने के पश्चात केटेगिरी वार चयनित अभ्यर्थीयों की सूची का हार्ड कॉपी में प्रिंट निकाला जाएगा एवं लॉटरी समिति के समस्त सदस्यों के हस्ताक्षर करवाए जाएंगे। लॉटरी में सफल अभ्यर्थियों के नामों की सूची विभिन्न स्थानों पर चस्पा की जाएगी।
नगरीय निकाय द्वारा अगले दिन नियुक्ति पत्र निर्धारित प्रपत्र में कम्प्यूटर सॉप्टवेयर के माध्यम से जारी किए जाएंगे। अभ्यर्थियों का पुलिस वेरिफिकेशन, मेडिकल, दस्तावेज पूर्ति एवं सत्यापन एक माह के भीतर करवाया जाएगा।