पुलिस की गिरफ्त में आरोपी व जब्त की गई मोटरसाईकिल

रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) सीधे-साधे चेहरे वाले युवकों को देखकर उनके शातिर दिमाग का अंदाज लगाना मुश्किल है। ये युवक चंद पलों में किसी भी बाइक की ताला तोड़कर उसे गायब करने में माहिर है। बाइक चुराने में माहिर इस गैंग के सदस्य जब पुलिस के हत्थे चढ़े तो उनकी कारगुजारियां जानकर वे भी हैरान रह गए। सख्ती से जब पूछताछ हुई तो शहर में हुई बाइक चोरी की कई घटनाओं का पर्दाफाश हो गया। पुलिस ने इस गैंग की निशानदेही पर कई जगह छापेमारी करके चोरी की 5 मोटरसाइकिल जब्त की है।
रावतभाटा थानाधिकारी वीरेंद्र सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि रावतभाटा थाना क्षेत्र में गत दिनों पूर्व 18 मई को पटवारी के कार्यालय गए राजाराम पुत्र शंकरलाल मीणा की मंडेसरा बसस्टेंड के समीप से आरजे 09 एसई 9843 स्प्लेंडर बाइक चोरी होने पर शक के चलते आरोपी नरेश उर्फ देवेंद्र सिंह रावत पुत्र अमीन सिंह रावत निवासी पाड़ाझरखुर्द को गिरफ्तार करने के बाद पीठासीन अधिकारी के समक्ष पेश किया गया था, जंहा पीठासीन अधिकारी द्वारा पीसी रिमांड पर रावतभाटा पुलिस को सौंपने के बाद पीसी रिमांड पर गहनता से पूछताछ के दौरान आरोपी नरेश उर्फ देवेंद्र सिंह रावत पुत्र अमीन सिंह रावत निवासी पाड़ाझरखुर्द ने गैंग में शामिल व सहयोगी रहे अन्य शातिर चोरों के नाम भी बताए। जिस पर पुलिस ने चोरी में शामिल दो बाल अपचारियों को निरूद्ध कर शनिवार को पीठासीन अधिकारी के समक्ष पेश किया, जंहा पीठासीन अधिकारी ने बाल आपचारियों को बाल संप्रेषण गृह भेजने के आदेश पारित किए।
पुलिस के अनुसार पीसी रिमांड पर चल रहे आरोपी नरेश उर्फ देवेंद्र सिंह रावत पुत्र अमीन सिंह रावत निवासी पाड़ाझरखुद ने पूछताछ में बताया कि वे किसी भी बाइक का लॉक चंद मिनट में तोड़ लेते और पलक झपकते ही बाइक लेकर गायब हो जाते है। आरोपी से पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ की तो उन्होंने शहर में वाहन चोरी की अन्य वारदात को अंजाम दिए जाने की बात भी स्वीकार की। आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने शहर में कई जगह छापे मारे। इन अलग-अलग जगहों से चोरी की करीब 5 मोटरसाइकिल जब्त की गई। जिसमें 4 मोटरसाइकिल रावतभाटा नगर से एवं 1 मोटरसाईकिल अजमेर से जब्त की। पुलिस के अनुसार अभी कई वारदातें उजागर होने की संभावना है। पुलिस द्वारा इनके गिरोह के बारे में जानकारी जुटाने के प्रयास किए जा रहे है। इस मामले की जांच सहायक पुलिस उपनिरीक्षक दलपत सिंह चुंडावत द्वारा की जा रही है।