सॉफ्ट वीसी के जरिए संवाद करते अधिकारी।

रावतभाटा – शिव सिंह चौहान (पत्रकार) ब्लाॅक से ग्राम पंचायत स्तर पर भी अब सॉफ्ट वीसी शुरू हो गई है। अटल सेवा केन्द्रों पर शुरू हुई सॉफ्ट वीसी के जरिए संपर्क हुआ। पंचायत समिति भैंसरोड़गढ़ में गुरूवार को दोपहर 12 बजे से 2 बजे तक साफ्ट वीसी का आयोजन किया गया। जिसमें दूरदराज की 25 में से 15 ग्राम पंचायतों से सीधे तौर पर जुड़ पाये, तथा दो ग्राम पंचायतों से आई.पी. फोन के माध्यम से संपर्क हुआ। शेष ग्राम पंचायतें विद्युत व्यवधान होने से नहीं जुड़ पाई। अगर भैंसरोड़गढ़ ब्लाॅक में इस तकनीक का बेहतर उपयोग अपनी प्रगति की समीक्षा एवं दूसरे कार्यो की माॅनिटरिंग के लिए करते है, तो यह बड़ी सहायक सिद्ध हो सकती है, साथ ही इस पहाड़ी व दुर्गम क्षेत्र के लिए सूचना संप्रेषण का सुगम साधन बन पायेगा। इस प्रकार जुड़ने का यह पहला अवसर था, भविष्य में इस तकनीक का और बेहतर तरीके से उपयेाग कर ब्लाॅक की प्रगति बढ़ाते हुए ऊपरी पायदान पर लाने का प्रयास किया जाएगा।
सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग द्वारा ब्लॉक से ग्राम पंचायतों के बीच सॉफ्ट वीसी शुरू की है। इससे पहले तो राज्य व जिला स्तर से वीसी के जरिए ब्लाक यानि पंचायत स्तर पर आईटी सेंटर पर अधिकारी संवाद करते रहे, लेकिन ईमित्र प्लस मशीन को उपयोग में लेते सॉफ्ट वीसी शुरू की है। इससे पंचायत स्तर के आईटी सेंटर सीधे वीसी से जुड़ गए है। कलेक्टर, मुख्यमंत्री या अन्य जिले व राज्य स्तर के अधिकारी सीधे ग्राम पंचायत तक सॉफ्ट वीसी के जरिए सचिव, सरपंच या ग्राम स्तर तक के अधिकारियों कर्मचारियों से सीधा संवाद-संपर्क बना सकेंगे। यह ही नहीं ग्राम पंचायत मुख्यालय पर स्थित आईटी सेंटर पर ईमित्र प्लस मशीन से अब मूल निवास, जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र सशुल्क प्रिंट आउट लिया जा सकता है। वहीं इस सुविधा से किसानों को अब जमीन के खाते की नकल के लिए तहसील के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। पानी, बिजली के बिल, बैंक खातों से रुपयों का लेन देन की भी सुविधा पंचायत के आईटी सेंटर पर उपलब्ध हो गई है। भैंसरोड़गढ़ पंचायत समिति के विकास अधिकारी कालूराम मीना ने गुरूवार को आयोजित सॉफ्ट वीसी के जरिए प्रधानमंत्री आवास योजना, इंदिरा गांधी आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, मनरेगा, दिव्यांग रजिस्ट्रेशन, पं. दीनदयाल उपाध्याय जनकल्याण शिविरों आदि आदि के रजिस्ट्रेशन व योजनाओं की प्रगति पर समीक्षा की। इस मौके पर पंचायत समिति भैंसरोड़गढ़ के प्रसार अधिकारी सत्येंद्र सिंह सिसोदिया मौजुद थे।