हरिमोहन मेहरा (ब्यूरो चीफ)

कोटा के सकतपुरा क्षेत्र में स्थित निजी बिजली कंपनी के कार्यालय पर अज्ञात बदमाशों के हथियारों से हमला करने का मामला सामने आया है।

जिसमें डेढ़ दर्जन अज्ञात हमलावरों ने बिजली कंपनी के दफ्तर में तोड़फोड़ कर दी और तीन जनों को घायल कर दिया। इस हमले में एक गंभीर रूप से घायल हो गया जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामले की जानकारी लगते ही पुलिस वहां पहुंची और जायजा लिया। इस घटना के 20 मिनट बाद करंट से भैंसों के मरने से आक्रोशित नांता गुर्जर बस्ती लोगों ने सड़क पर जाम लगा दिया। ऐसे में पुलिस दोनों मामले को जोड़कर ही देख रही है। मिली जानकारी के अनुसार जयपुर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड की फ्रेंचाइजी कंपनी सीईएससी का सकतपुरा में सब स्टेशन है। जहां दोपहर एक बजे के करीब 15 से 20 की संख्या में अज्ञात बदमाश नकाबपोश बनकर आए। आते ही बदमाशों ने कार्यालय में तोड़फोड़ शुरू कर दी। इसके बाद वहां मौजूद कर्मचारियों पर भी हमला कर। वहां मौजूद अन्य कर्मचारियों ने खुद के कमरे में बंद कर जान बचाई। सूचना पर कुन्हाड़ी थाना पुलिस मौके पर पहुंची और घायल हुए 3 जनों को निजी अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां पर विजय के सिर में गंभीर चोट लगी है। विवेक व वसीम के हाथ पैरों पर चोट लगी है। इस मामले को लेकर बिजली कंपनी के अधिकारी अभी किसी तरह की जानकारी देने से बच रहे है। पुलिस प्रारंभिक तौर पर दोनों मामलों को जोड़कर ही देख रही है और इसकी पूरी पड़ताल में जुट गई है।