हरिमोहन मेहरा (ब्यूरो चीफ)

कोटा- राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय अशैक्षणिक कर्मचारियों ने अध्यक्ष जमना लाल भार्गव की अगवाई में सोमवार को प्रातः 8.00 से 10.00 बजे तक विश्वविद्यालय के गेट पर आरटीयू कर्मचारियों ने अभी तक सातवा वेतनमान लागू नहीं करने के विरोध में कॉली पटटी बांधकर धरना-प्रदर्शन किया और जून 2018 में शीघ्र लागू करने की मांग की गयी। यह जानकारी प्रवक्ता पी.पी.गुप्ता ने दी।

कर्मचारी संगठन के अध्यक्ष जमनालाल भार्गव ने बताया कि संगठन ने कई बार विश्वविद्यालय प्रशासन व राज्य सरकार को जयपुर जाकर सातवा वेतनमान लागू करने को लेकर कई बार पत्र देकर अनुरोध किया जा चुका है लेकिन अभी तक मांग पूरी नहीं की गई है, जबकि राजस्थान में सभी जगहों पर सातवां वेतनमान लागू किया जा चुका है। इसको लेकर कर्मचारियों में काफी रोष व्याप्त है। इस मौके पर विश्वविद्यालय के प्रति-कुलपति प्रोफेसर राजीव गुप्ता ने भी कर्मचारियों से वार्ता की और कहा कि प्रकरण सरकार के अधीन प्रक्रियाधीन है,जैसे ही जवाब आ जाएगा उसे शीघ्र लागू कर दिया जाएगा। इसके लिए प्रयास किया जा रहा है लेकिन कर्मचारियों ने ऐसे आश्वासन को नहीं माना और प्रशासन के विरूद्व जमकर नारेबाजी की और कहा कि ऐसे कई बार आश्वास दिये जा चुके हैं लेकिन विश्वविद्यालय स्तर पर कोई अधिकारी द्वारा लागू करवाने में प्रयासरत नहीं है।श्री भार्गव ने आगे कहा कि अगर विश्वविद्यालय प्रशासन जून 2018 में वेतनमान लागू नहीं करवाया तो कर्मचारियों को उग्र आन्दोलन करने पडेगा। इस मौके पर महामंत्री धरमवीर मेवाडा,उपाध्यक्ष हरिश कुमार शर्मा, कोषाध्यक्ष रामकुमार योगी, प्रवक्ता पी.पी.गुप्ता, सतीश पारीक, अरविन्द शर्मा, रामलाल मेघवाल, आर.के.जैन,अजय सिंह, के.के.यादव, राजेश कुमार, महेन्द्र चतुर्वेदी, आर.पी.महावर,सुदामा गोस्वामी,के.एल. लोदवाल, सहित पदाधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे