कोटा- हिन्द मजदूर सभा ने छबडा थर्मल पॉवर प्रोजेक्ट के चीफ इंजीनियर और ई एस आई विभाग को पत्र लिखकर प्लाण्ट परिसर में ई एस आई सुविधा लागू करवाने की मांग की है ।

एच एम एस के प्रदेश महासचिव मुकेश गालव और प्रदेश सचिव आज़ाद शेरवानी ने बताया कि छबडा थर्मल पॉवर प्रोजेक्ट में ई एस आई कटौती की जाती हे सभी ठेका श्रमिक हर माह इसमें अपना अंशदान जमा कर रहे हें मगर अंशदान जमा करने के उपरान्त उन्हें ई एस आई का लाभ नहीं मिल पा रहा हे ई एस आई विभाग जब इनका अंशदान ले रहा हे तो उसे प्लाण्ट परिसर के पास एक डिस्पेंसरी की व्यवस्था करनी चाहिये ताकि बीमित परिवार चिकित्सा सुविधा प्राप्त कर सकें ।

CTPP के मुख्य अभियन्ता द्वारा हाल ही में ठेका श्रमिकों का मेडिकल करवाने के लिये ठेकेदारों को आदेश जारी किया तो ठेकेदारों द्बारा श्रमिकों पर दबाव बनाया जा रहा हे जिसका हमारा संगठन विरोध प्रकट करता हे हम मेडिकल करवाने का विरोध नहीं करते मगर इसका भार मजदूर पर पड़े ये स्वीकार नहीं होगा ।

मेडिकल के नाम पर गरीब मजदूर पर आर्थिक भार डालना न्याय संगत नहीं हे इनकी आर्थिक स्थिति इतनी दयनीय हे कि मिलने वाली मजदूरी से पेट पालना ही मुश्किल हे फिर अनावश्यक भार केसे वहन हो जब ठेका श्रमिक ई एस आई में अपना अंशदान दे रहा हे तो अतिरिक्त भार क्यों वहन करे ई एस आई विभाग को प्लाण्ट परिसर के पास मेडिकल केम्प की व्यवस्था करनी चाहिये ताकि आसानी से सभी का मेडिकल हो सके ।

साथ ही हमारी मांग हे कि प्लाण्ट के निकट एक डिस्पेंसरी खुलवाई जाये ताकि बीमित परिवारों को चिकित्सा लाभ प्राप्त हो एच एम एस सदेव मजदूर हित की मांग करती रही हे जिस प्रकार एच एम एस की माँग पर कोटा थर्मल पॉवर स्टेशन के पास डिस्पेंसरी का संचालन किया जा रहा हे और प्लाण्ट के पास बीमित अपने अंशदान का उपयोग कर चिकित्सा प्राप्त कर रहे हें उसी प्रकार CTPP प्लाण्ट के श्रमिकों के हित को ध्यान में रखते हुए ई एस आई डिस्पेंसरी की व्यवस्था की जावे ।