छबड़ा -जमना लाल यादव पत्रकार

सूर्य देव द्वारा इन दिनों प्रचंड तेवर दिखानें से जन-जीवन को काफी प्रभावित कर रखा हैं। आग बरसानें वाली भीषण गर्मी के कारण सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ हैं। इस भीषण गर्मी के चलते दुकानदारों एवं पालिका प्रशासन द्वारा भी जनता को शीतल पेयजल की व्यवस्था नही करने सें जनता पेयजल के तरस रही हैं। इस भीषण गर्मी का असर कृषि उपज मंडी समिति में भी नजर आ रहा हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार जिलें में जेठ माह की झूलसानें वाली गर्मी ने जन-जीवन का पूरी तरह सें अस्त-व्यस्त कर रखा हैं। दिनों-दिन बढ़ रहें तापमान के सामनें अब कूलर एवं पंखे भी बेअसर हो रहें हैं। दिनभर गर्म हवाओं का दौर चलनें के कारण लोगों का घर से निकलना मुश्किल हो चुका हैं। वाहन चालकों कों लू के थपेड़ों का सामना करना पड़ रहा हैं। आग बरसानें वाली गर्मी के कारण सड़को पर सन्नाटा दिखाई दे रहा हैं और बाजारों में से रौनक गायब हो गई हैं। इन दिनों बाजार में खरीददारी करने के लिए ग्राहक दुकानों पर नहीं पहुंचने से ग्राहकी मंदी चल रही हैं और दुकानें भी सूनी रहती नजर आ रही हैं। भीषण गर्मी के समय गन्ना का जूस अमृत समान हो गया हैं इसका ज्यादातर लोग इसका सेवन करते नजर आ रहे हैं। सुबह धूप निकलनें के साथ ही गर्मी अपने तेवर दिखानें लग जाती हैं। दोपहर 12 बजें से पांच बजे तक सूर्य देव अपना प्रचंड तेवर दिखाते नजर आ रहें हैं। इस भीषण गर्मी का असर कृषि उपजमंडी समिति परिसर में देखने का मिला हैं, ग्रामीण अंचल के किसान अपनी कृषि जिंसो को भी बैचनें के लिए मंडी समिति में नहीं जानें से मंडी समिति भी सूनी नजर आ रही हैं जिससें राजस्व हानि हो रही हैं। तपती सड़क पर पैदल राहगीर एवं वाहन चालकों का गुजरना इन दिनों मुश्किल हो रहा हैं। आग बरपानें वाली गर्मी के कारण युवतियां एवं महिलाएं अपने चेहरे को स्काफ से ढ़क कर निकलनें को मजबूर हो गई है साथ हीं लू नें जनजीवन को खासा प्रभावित कर रखा हैं। राहगीर एवं वाहन चालकों को जहां भी छांव नजर आती हैं वे वहां रूक कर राहत की सांस ले रहे हैं। भीषण गर्मी ने राहगीर, वाहन चालकों, पशु-पक्षियों का हाल बेहाल कर दिया हैं। इस भीषण गर्मी के चलते नगरपालिका क्षेत्र में पेयजल व्यवस्था की कमी का खामियाजा जनता को उठाना पड़ रहा हैं इसके चलते अपनी प्यास बुझानें के लिए इधर-उधर भटक रही हैं। सड़क के किनारें लगी दुकानो के दुकानदारों एवं पालिका प्रशासन द्वारा भी जनता को शीतल पेयजल की व्यवस्था नही करने सें जनता पेयजल के लिए परेशान होती नजर आ रही हैं। नगरपालिका प्रशासन द्वारा पालिका क्षेत्र में जनता के लिए पीने के पानी की लगाई प्याऊ व्यवस्था कागजों मे सिमट कर रह रही हैं। इस समस्या पर आज तक किसी भी जनप्रतिनिधी एवं प्रशासन ने ध्यान नही दिया हैं। इतना ही नही कि भीषण गर्मी के समय रेलवे स्टेशन पर भी यात्रियों को पीनें का पानी नहीं होनें से यात्रियों की भी प्यास नहीं बुझ पा रही हैं।