कोटा व्यापार महासंघ द्वारा शहर को स्वच्छता जन जाग्रति अभियान में देश में प्रथम स्थान प्राप्त करने पर प्रसन्नता व्यक्त की है।

कोटा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष क्रांति जैन एवं महासचिव अशोक माहेश्वरी ने कोटा व्यापार महासंघ की तरफ से आयोजित पत्रकार वार्ता में बताया कि अब हमारा मूल उद्देश्य कोटा शहर को स्वच्छता की श्रेणी में प्रथम स्थान दिलाने के साथ-साथ कोटा को ग्रीन सिटी, अतिक्रमण मुक्त समुचित पार्किंग एवं व्यवस्थित यातायात व्यवस्था स्थापित कर कोटा शहर को देश के अग्रणी स्वच्छ शहरों में शामिल करने की कार्य योजना बनाई जा रही है। कोटा को सिटीजन फिड बेक में प्रथम स्थान प्राप्त करने पर कहा कि यह सभी वर्गो के सहयोग से संभव हो पाया है अब कोटा व्यापार महासंघ अपने स्तर पर शहर को पन्द्रह जोन में बांटकर व्यापारी प्रतिनिधियों को उन क्षेत्रों की स्वच्छता एवं अन्य व्यवस्थाओं में सहयोग करने का प्रयास करेगा जिससे शहर को सुन्दरता एवं स्वच्छता प्रदान करने के प्रयास कारगर साबित होगें।

कोटा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष क्रांति जैन महासचिव अशोक माहेश्वरी ने कहा कि स्वच्छता अभियान में नगर निगम के महापौर महेश विजय, उप महापौर सुनीता व्यास, उपायुक्त राजेश डांगा एवं श्वेता फागड़िया द्वारा स्वच्छता के क्षेत्र में भरपुर प्र्रयास किये गये एवं सड़कों पर उतर कर लोगों में जन जाग्रति पैदा की साथ ही महासंघ की सभी 150 व्यापारिक एवं औद्योगिक संस्थाओं ने भी भरपूर सहयोग दिया। आम जनता एवं छोटे व्यापारी यहां तक कि चाय-पान की बोडी लगाने वालों ने भी इस दिशा में अपना भरपूर योगदान प्रदान किया जिससे यह संभव हो पाया है। कोटा व्यापार महासंघ उन सभी का आभार व्यक्त करता है।

पत्रकार वार्ता को सम्बोधित करते हुए नगर निगम के महापौर महेश विजय ने इस उपलब्धि को जन सहभागिता को समर्पित करते हुए कहा कि व्यापार महासंघ खास कर स्वच्छता ब्राण्ड एम्बेसडर क्रांति जैन अशोक माहेश्वरी का जो पिछले आठ माह से यहां तक पहुंचने में भरपूर योगदान रहा है। बाजारों में करीब दस हजार डस्टबिन बांटे जाना इस दिशा में ठोस कार्य हुआ। नगर निगम द्वारा कचरा निस्तारण के लिए भरपूर सार्थक प्रयास किये गये जिससे आम जनता जुड़ पायी और सभी के प्रयासों से यह संभव हुआ। उन्होंने अपने कार्यकाल में कोटा शहर को स्वच्छ शहर के रूप में स्थापित करवाये जाने के लिए सभी का सहयोग मांगा।

उप महापौर सुनीता व्यास ने बताया कि पहली दो उपलब्धियों के बाद स्वच्छता को लेकर यह तीसरी बड़ी उपलब्धि है हम इसे कायम रखते हुये कोटा व्यापार महासंघ के साथ मिलकर कोटा शहर को इन्दौर, भोपाल, चण्डीगढ़ की श्रेणी में लाने का भरपूर प्रयास करेंगे।
उपायुक्त राजेश डांगा एवं श्वेता फागड़िया ने कहा कि नगर निगम ने कोटा व्यापार महासंघ के साथ मिलकर शहर के बाजारों एवं गलियों में जा-जाकर स्वच्छता का संदेश दिया। सिटिजन फिड बेक में प्रथम आने के लिए नगर निगम ने जो कार्य योजना बनाई थी उसे सुनियोजित करने में व्यापार महासंघ और यहां की आम जनता ने भरपूर सहयोग दिया। अगर इसी तरह सहयोग मिलता रहा तो निश्चित ही हम स्वच्छता की श्रेणी में प्रथम स्थान में आने में पिछे नहीं रहेंगे

पत्रकार वार्ता में मौजुद दी.एस.एस.आई. एसोसियेशन के पूर्व अध्यक्ष प्रेम भाटिया एवं पूर्व सचिव राजकुमार जैन ने कहा कि औद्योगिक क्षेत्र में भी स्वच्छता अभियान चलाया गया और डस्टबिन बांटे गये । प्रेम भाटिया ने पत्रकार वार्ता में घोषणा की कि करीब एक हजार डस्टबिन शहर के बाहरी क्षेत्रों के बाजारों एवं बस्तियों में उद्योग जगत की तरफ से बांटकर स्वच्छता का संदेश दिया जायेगा। उन्होंने कोटा व्यापार महासंघ द्वारा स्वच्छता को लेकर आगे चलायी जाने वाली कार्य योजना में भी पूर्ण भागीदारी निभाने का आश्वासन दिया।

कोटा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष क्रांति जैन एवं महासचिव अशोक माहेश्वरी ने बताया कि स्वच्छता के क्षेत्र. में स्वच्छता जन जाग्रति के तहत डस्टबिन रखना कारगर साबित हुआ इससे बाजारों में कचरा फैलने पर अंकुश लगा और बाजार स्वच्छ व सुन्दर आने लगी। इस योजना को आगे बढ़ाते हुये महासंघ ने शहर की छोटी बड़ी सभी दुकानों पर डस्टबिन रखवाये जाने की योजना है उसके लिए सभी वर्गो का सहयोग लिया जायेगा। उन्होंने उद्योग जगत द्वारा बाहरी क्षेत्र के बाजारों के लिए एक हजार डस्टबिन उपलब्ध करवाये जाने के लिए प्रेम भाटिया एवं राजकुमार जैन की प्रशंसा की और अन्य संस्थाओं को भी इस दिशा में आगे आने का आवाह्ान किया। महासंघ ने घोषणा की कि वह शीघ्र ही कोटा शहर के बाहरी क्षेत्रों में स्वच्छता एवं जन जाग्रति अभियान की शुरूआत करेगा जिससे शहर के सभी क्षेत्रों में स्वच्छता प्रदान की जा सकी।

अशोक माहेश्वरी(महासचिव)